दादरी-भिवानी Highway पर तेज रफ्तार कार ने सगी बहनों की ली जान, ड्राइवर फरार
Charkhi-Dadri News in Hindi

दादरी-भिवानी Highway पर तेज रफ्तार कार ने सगी बहनों की ली जान, ड्राइवर फरार
चरखी गांव के समीप एक तेज रफ्तार कार ने रोड पार कर रही दो सगी बहनों को कुचल दिया.

दादरी-भिवानी हाईवे (Dadri-Bhiwani Highway) पर चरखी गांव के समीप एक तेज रफ्तार कार (Speeding Car) ने रोड पार कर रही दो सगी बहनों (sisters died) को कुचल दिया.

  • Share this:
चरखी दादरी. चरखी दादरी जिले में दादरी-भिवानी हाईवे (Dadri-Bhiwani Highway) पर चरखी गांव के समीप एक तेज रफ्तार कार (Speeding Car) ने रोड पार कर रही दो सगी बहनों को कुचल दिया. इस हादसे में दोनों बहनों की मौके पर ही मौत हो गई. दोनों बहनें 6ठी और 7वीं कक्षा की छात्राएं थीं. हादसे के बाद गाड़ी चालक मौके से फरार हो गया. इस हादसे के बाद ग्रामीणों ने शव को रोड पर ही रखा और कई घंटों तक जाम लगा दिया. सोमवार की शाम को दोनों तरफ वाहनों की लंबी लाइनें लग गई थीं. इसकी खबर लगने के बाद डीएसपी मौके पर पहुंचे और काफी देर समझाने के बाद जाम खुलवाया गया और शवों को दादरी के सिविल अस्पताल में रखवाया गया है.सदर थाना प्रबंधक जितेंद्र ने बताया कि परिजनों के बयान पर फरार कार चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है- जल्द ही कार चालक को काबू कर लिया जाएगा-

बड़ी बहन 7वीं और छोटी बहन 6 ठी कक्षा की थी छात्रा

गांव चरखी निवासी 13 वर्षीय तमन्ना व छोटी बहन 11 वर्षीय मुस्कान सोमवार की शाम को खेतों से घर की ओर लौट रही थी. वे जब चरखी गांव की बस स्टैंड पर दादरी-भिवानी हाईवे को पार कर रही थी तो भिवानी की ओर से तेज गति से आ रही कार ने दोनों बहनों को कुचल डाला. इस हादसे में दोनों बहनों की मौके पर मौत हो गई. हादसे के बाद कार चालक गाड़ी छोड़कर फरार हो गया. घटनास्थल पर ग्रामीण एकत्रित हो गए और कार चालक के खिलाफ कार्रवाई कर गिरफ्तारी और स्पीड ब्रेकर बनवाने की मांग की.



ग्रामीणों ने सड़क पर शवों को रख घंटों लगाया जाम
सरपंच गुलजारी लाल की अगुवाई में ग्रामीण काफी देर तक सड़क पर जाम लगाए बैठे रहे. ग्रामीणों ने बताया कि ओवरब्रिज या अंडरग्राउंड पुल बनाने के साथ-साथ स्पीड ब्रेकर बनाए जाएं ताकि यहां पर आए दिन होने वाले हादसों से बचा जा सके. काफी देर बाद डीएसपी शमशेर दहिया व बाली सिंह मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझा बुझाकर जाम खुलवाने की कोशिश की, लेकिन ग्रामीण अपनी मांग पर अड़े रहे.

sisters Died
सरपंच गुलजारी लाल की अगुवाई में ग्रामीण काफी देर तक सड़क पर जाम लगाए बैठे रहे.


इस घटना के कई घंटे बाद बाढड़ा के एसडीएम डॉ. विरेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंचे और काफी मशक्कत के बाद ग्रामीणों को समझाकर जाम खुलवाया. फिलहाल पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल में रखवाया दिया है.

दिवाली के ​दूसरे दिन ही पसरा हमारे घर अंधेरा

मृतक बहनों के दादा पृथ्वी सिंह ने बताया कि बड़ी लड़की 13 वर्षीय तमन्ना 7वीं व छोटी 11 वर्षीय मुस्कान छठी कक्षा की छात्राएंं थीं. दोपहर बाद दोनों बहनें खेत में गई थीं. वापिस आते समय तेज गति से आ रही कार ने दोनों बहनों को कुचल डाला. हमारे घर में दिवाली के दूसरे ही दिन अंधेरा पसर गया. उन्होंने पुलिस से इस संबंध में उचित कार्रवाई की मांग की है.

यह भी पढ़ें: केन स्टार कंपनी के गोदाम में लगी आग 7 घंटे में बुझी, 12 करोड़ का हुआ नुकसान

रेसलिंग में झंडे गाड़ने वाली बबीता फोगाट को नहीं मिली चुनावी अखाड़े में सफलता
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज