होम /न्यूज /हरियाणा /UPSC Results 2020: किसान के बेटे अंकित को मिली 562वीं रैंक, तीसरे प्रयास में हासिल की सफलता

UPSC Results 2020: किसान के बेटे अंकित को मिली 562वीं रैंक, तीसरे प्रयास में हासिल की सफलता

चरखी दादरी के अंकित ने बढ़ाया मान

चरखी दादरी के अंकित ने बढ़ाया मान

UPSC Results-2020: अंकित पहली बार परीक्षा भी नहीं दे पाया था लेकिन मन में परीक्षा पास करने की ठान ली थी. दूसरी बार भी प ...अधिक पढ़ें

चरखी दादरी. अपने किसान पिता के साथ खेतों में लावणी करने के दौरान मन में आईएएस (IAS) बनने का संपना संजोया था, आज उसी मेहनत का फल मिला है कि यूपीएससी (UPSC) के तीसरे अटेंप्ट में परीक्षा पास की. इसका श्रेय जहां माता-पिता के लालन-पोषण को जाता है. वहीं दादा के दिशा-निर्देश के कारण वे इस मुकाम पर पहुंचे हैं. टारगेट लेकर मेहनत करने वालों की कभी हार नहीं होती और सफलता जरूर मिलती है. ये कहना है यूपीएससी परीक्षा में 562वीं रैंक हासिल करने वाले अंकित की.

बता दें कि चरखी दादरी के गांव भागवी निवासी 25 वर्षीय अंकित को यूपीएससी परीक्षा में 562वां रेंक मिला है. परीक्षा पास करने के बाद चरखी दादरी पहुंचा अंकित तक्षक को खुली जीप में गांव तक ले जाया गया और ग्रामीणों ने फूल-मालाओं से भव्य स्वागत किया. उनके पिता जहां खेती करते हैं, वहीं माता गृहणी है. पिता को अपने बेटे की सफलता पर नाज है. ग्रामीणों के स्वागत के दौरान बेटे की सफलता को देख पिता रमेश तक्षक की आंखों में पानी आ गया और कहा कि किसान के बेटे ने देश की सर्वोच्च परीक्षा पास कर उसका नाम रोशन किया है.

अंकित तक्षक ने बताया कि स्कूली समय के दौरान वह खेतों में पिता के साथ लावणी करवाता और समय मिलते ही खेतों में पढ़ाई भी करता. मन में आईएएस बनने की ठान ली थी, इसलिए वह लगातार मेहनत करता रहा. हालांकि पहली बार परीक्षा भी नहीं दे पाया था लेकिन मन में परीक्षा पास करने की ठान ली थी. दूसरी बार भी पेपर क्लीयर तो हो गया लेकिन इंट्रव्यू में रहने से भी हार नहीं मानी. तीसरी बार में परीक्षा पास की तो सपना पूरा हुआ. अंकित ने कहा कि टारगेट चाहे किसी भी फील्ड में लेकर चलें, चाहे हार हो लगातार मेहनत करने से सफलता जरूर मिलती है.

Tags: Upsc exam 2021, Upsc exam result, UPSC results, Upsc topper

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें