• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • विनेश फौगाट रोम रैंकिंग सीरीज कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतीं , ताऊ ने कहा- ओलंपिक में जीतेगी गोल्ड

विनेश फौगाट रोम रैंकिंग सीरीज कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतीं , ताऊ ने कहा- ओलंपिक में जीतेगी गोल्ड

विनेश फोगाट ने पिछले साल ओलिंपिक के लिए अपना टिकट कटाया था. वह टोक्यो ओलिंपिक का टिकट हासिल करने वाली इकलौती भारतीय रेसलर हैं. उन्होंने पिछले साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया था और साथ ही क्वालिफाई भी किया.

विनेश फोगाट ने पिछले साल ओलिंपिक के लिए अपना टिकट कटाया था. वह टोक्यो ओलिंपिक का टिकट हासिल करने वाली इकलौती भारतीय रेसलर हैं. उन्होंने पिछले साल वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया था और साथ ही क्वालिफाई भी किया.

भारतीय पहलवान विनेश फौगाट (Vinesh Phogat) ने 53 किग्रा भार वर्ग में रोम रैंकिंग सीरीज कुश्ती चैंपियनशिप (Rome Ranking Series Wrestling Championships) का फाइनल जीत लिया है. राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों की चैंपियन विनेश फौगाट ने इक्वाडोर की लुईसा एलिजाबेथ (Louisa Elizabeth of Ecuador) को हराकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया.

  • Share this:
चरखी दादरी. भारतीय पहलवान विनेश फौगाट (Vinesh Phogat) ने 53 किग्रा भार वर्ग में रोम रैंकिंग सीरीज कुश्ती चैंपियनशिप (Rome Ranking Series Wrestling Championships) का फाइनल जीत लिया है. राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों की चैंपियन विनेश फौगाट ने इक्वाडोर की लुईसा एलिजाबेथ (Louisa Elizabeth of Ecuador) को हराकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया. इसी के साथ विनेश ने साल 2020 का पहला स्वर्ण पदक भी जीत लिया है. विनेश की इस उपलब्धि पर परिजनों ने खुशियां मनाते हुए ओलंपिक में गोल्ड की आश की उम्मीद की है.

विनेश फौगाट ने पिछले दिनों टोक्यो ओलंपिक में क्वालीफाई किया

बता दें कि गांव बलाली निवासी विनेश फौगाट ने पिछले दिनों टोक्यो ओलंपिक में क्वालीफाई किया है. अब विनेश यूक्रेन के कीवी में पसीना बहाते हुए ओलंपिक की तैयारियों में जुटी हैं. साथ ही विनेश ने इस साल की पहली रोम रैंकिंग सीरीज कुश्ती चैंपियनशिप का फाइनल जीतते हुए अपनी योग्यता को सिद्ध किया है.
विनेश सेमीफाइनल में चीन की कियानयु पांग को 4-2 से हराकर फाइनल में पहुंची थीं. विनेश ने पहले दौर में यूक्रेन की क्रिस्टिना बेरेजा को एकतरफा मुकाबले में 10-0 और क्वार्टर फाइनल में चीन की लैनुआन लुओ को 15-5 से पराजित किया.

विनेश के ताऊ व द्रोणाचार्य अवार्डी महाबीर फौगाट ने कहा कि विनेश को ऐसे दांव-पेंच सिखाएं गए हैं कि वह ओलंपिक में विरोधियों को पछाड़ते हुए देश के लिए गोल्ड मेडल लेकर आएगी.


'विनेश ने अपनी मेहनत से देश का नाम विश्व में चमकाया'

बेरेजा के खिलाफ विनेश ने 'डबल लेग' आक्रमण से जीत हासिल की. वहीं उनकी लुओ पर जीत काफी मुश्किल रही. लुओ मजबूत प्रतिद्वंद्वी थीं जो पहले पीरियड के बाद 5-2 से बढ़त बनाए हुई थीं, लेकिन विनेश ने कुछ चतुर प्रयासों से दूसरे पीरियड में अंक जुटाए. दो बार उन्होंने लुओ को पैर से गिराया.
विनेश के ताऊ व द्रोणाचार्य अवार्डी महाबीर फौगाट ने कहा कि विनेश को ऐसे दांव-पेंच सिखाएं गए हैं कि वह ओलंपिक में विरोधियों को पछाड़ते हुए देश के लिए गोल्ड मेडल लेकर आएगी. उन्होंने कहा कि विनेश ने अपनी मेहनत के बूते देश का नाम विश्व में चमकाया है.

ये भी पढ़ें - बंद होंगे शराब के ठेके, प्रदेश की 703 पंचायतों ने दी सहमति

ये भी पढ़ें - JEE Main: हिसार के दिव्यांशु अग्रवाल ऑल इंडिया टॉपर बने

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज