महिला दिवस पर महिलाओं की पीड़ा आई सामने, बोलीं- खाने के पड़े हैं लाले...

दादरी जिले के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं सुबह ही मजदूरी के लिए निकल जाती हैं, जिन्हें मजदूरी कर 300-400 रुपये प्रतिदिन मिलते हैं.

Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: March 8, 2019, 11:11 AM IST
महिला दिवस पर महिलाओं की पीड़ा आई सामने, बोलीं- खाने के पड़े हैं लाले...
महिला दिवस पर महिलाओं की राय
Pardeep Sahu
Pardeep Sahu | News18 Haryana
Updated: March 8, 2019, 11:11 AM IST
म्हारा तो रोज ही महिला दिवस होता है, खाने के लाले पड़े हैं. रात को पति शराब पीकर झगड़ा करता है. हमें तो दो टैम की रोटी का जुगाड़ करना पड़ै है. यह पीड़ा दादरी की झुग्गियों में रहने वाली महिलाओं की है. एक तरफ जहां आज पूरा विश्व अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मना रहा है. विभिन्न क्षेत्रों में मजदूरी कर अपना व परिवार का पेट पालने वाली महिलाओं से महिला दिवस के बारे में पूछा गया, तो उनका कहना था कि महिला दिवस क्या होता है भाई?

आज जब विश्वभर में महिला-पुरुष कदम से कदम मिलाकर चल रहे हैं, महिलाएं नौकरी के साथ-साथ घर-संसार भी संभाल रही हैं, तो ऐसे में कुछ संगठन शहरों में अच्छा काम करने वाली महिलाओं का सत्कार करती हैं. दादरी जिले के शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं सुबह ही मजदूरी के लिए निकल जाती हैं, जिन्हें मजदूरी कर 300-400 रुपये प्रतिदिन मिलते हैं.

इन महिलाओं को यह नहीं पता कि महिला दिवस क्या होता है. मजदूरी करने वाली महिलाओं की बातों से तो यही लगता है कि महिला दिवस सिर्फ कागजों में ही दबकर रह गया है. झुग्गियों में रहने वाली संतरो, कमला व राजो से पूछा जो कहा, भाई ये महिला दिवस क्या होता है. हम तो मजदूरी करके 2 सौ 4 सौ रूपए कमा लेती हैं ताकि अपने परिवार को दो जून की रोटी खिला सकें.

उनके लिए तो वह त्यौहार होता है जिस दिन कोई व्यक्ति आकर उनको कपड़े व मिठाइयां देते हैं. महिला दिवस के बारे में पूछने पर कमलेश ने बताया कि म्हारा तो रोज महिला दिवस है. उन्होंने बोला कि दो समय की रोटी का किसी तरह जुगाड़ कर लेती हैं, महिला दिवस के बारे में उनको कोई जानकारी नहीं है. कब क्या और कैसे क्या होता है नहीं जानकारी. पैसा कमाकर परिवार को पालन-पोषण कर रही हैं.

ये भी पढ़ें:

शहीद सोमबीर के घर पहुंचे सीएम खट्टर, परिवार को 50 लाख और एक नौकरी देने की घोषणा की

PHOTO : भाजपा से ज्यादा इनेलो पर बरसीं जेजेपी की नैना चौटाला
Loading...

विधायिका में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था हो : डॉ.संतोष दहिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चरखी दादरी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 8, 2019, 11:06 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...