चाइनीज ऐप्स पर प्रतिबंध सर्जिकल स्ट्राईक के समान, हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा
Chandigarh-City News in Hindi

चाइनीज ऐप्स पर प्रतिबंध सर्जिकल स्ट्राईक के समान, हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा
केंद्र सरकार ने 59 चाइनीज ऐप्स पर बैन लगा दिया है

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा, भारत-चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद के चलते चीनी ऐप्स पर जो प्रतिबंध लगाया गया है वो सर्जिकल स्ट्राईक के समान है. सरकार ने चीन पर डिजिटल स्ट्राइक कर दी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: June 30, 2020, 10:27 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि मोदी सरकार ने चीन पर डिजिटल स्ट्राईक करते हुए 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबन्ध लगाकर राष्ट्र और समाज हितैषी सराहनीय कार्य किया है. सरकार के इस कदम से देश सेवा और सुरक्षा में अनुकरणीय बदलाव होगा. गृह मंत्री ने कहा कि भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद के चलते चीनी ऐप्स पर जो प्रतिबन्ध लगाया गया है, वह एक सर्जिकल स्ट्राईक के समान है.

देश की सुरक्षा की दृष्टि से इन ऐप्स पर प्रतिबंध लगाना अति आवश्यक था.  केंद्र ने टिकटाक, यूसी ब्राउजर, कैम स्कैनर सहित 59 चाईनीज ऐप पर पाबंदी लगाकर एक बेहतरीन कदम उठाया है. इसके अलावा शेयर इट,  हेलो, न्यूज डॉग, ब्यूटी प्लस, वीचैट, बीगो लाइव,  वीगो वीडियो, कैम स्कैनर  जैसे ऐप पर भी पाबंदी लगाने की प्रक्रिया की गई है. कहा कि इससे भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की सुरक्षा और व्यवस्था को बल मिलेगा. इन ऐप्स पर प्रतिबंध लगने से चाईना को करारा जवाब मिला है.

 Chinese Apps Banned in India, Chinese Apps, modi-government, Surgical Strike, Minister Anil Vij, भारत में चीनी ऐप्स प्रतिबंधित, चीनी ऐप्स, मोदी सरकार, सर्जिकल स्ट्राइक, मंत्री अनिल विज
हरियाणा के गृह मंत्री विज (File Photo)




ये भी पढ़ें: इधर पानी के रेट पर बिक रहा गाय का दूध, उधर मिल्क पाउडर इंपोर्ट करने की अनुमति



विज ने कहा कि भारत को आत्म निर्भर बनाने की दिशा में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस प्रकार के अनेक ठोस कदम उठाए हैं. स्थानीय उत्पादों को आम आदमी की पहुंच में लेने हेतु लोकल के लिए वोकल बनने के लिए प्रेरित करना होगा. हम सबको विदेशी उत्पादों की ओर आकर्षित न होकर भारत में बने उत्पादों को खरीदने पर जोर देना चाहिए, जिससे देश की अर्थव्यवस्था और मजबूत हो सके.



ये भी पढ़ें:  क्यों न्यूनतम समर्थन मूल्य से काफी कम कीमत पर मक्का बेचने को मजबूर हैं किसान?

उन्होनें ने कहा कि देशी उत्पादों की मांग बढने से व्यापारी गतिविधियों को भी बढ़ावा मिलेगा. मंत्री ने कहा कि जिस प्रकार केन्द्र सरकार द्वारा ऐप्स पर पाबंदी लगाकर चीन को जो करारा जवाब दिया गया है, उसी प्रकार जनता भी स्वदेशी उत्पादों को ही खरीद कर देश को आगे ले जाने का काम करे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading