लाइव टीवी

कोविड-19 के ईलाज में जुटे निजी स्वास्थ्यकर्मियों को मिलेगा ये लाभ
Chandigarh-City News in Hindi

News18Hindi
Updated: April 2, 2020, 12:28 PM IST
कोविड-19 के ईलाज में जुटे निजी स्वास्थ्यकर्मियों को मिलेगा ये लाभ
कोरोना वायरस संक्रमित लोगों का ईलाज करने वाले निजी डॉक्टरों के लिए घोषणा

केंद्र सरकार के नए बीमा कवर में न आने वाले निजी डॉक्टरों, नर्सों को मिलेगा लाभ, मनोहरलाल खट्टर ने निजी अस्पतालों से आग्रह करते हुए कहा कि वे कोरोना प्रभावित रोगियों को चिकित्सा देखभाल से मना न करें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 2, 2020, 12:28 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़: हरियाणा सरकार (Haryana Government) ने कोराना वायरस (Covid-19) पीड़ितों के ईलाज में जुटे निजी अस्पतालों के स्वास्थ्य कर्मियों के लिए भी बड़ा एलान किया है. राज्य के निजी अस्पतालों में काम करने वाले डॉक्टरों, नर्सों, पैरामेडिकल और अन्य कर्मचारियों को भी सरकारी क्षेत्र में काम करने वालों की तर्ज पर एक्सग्रेशिया मुआवजे का लाभ दिया जाएगा. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि निजी अस्पतालों में काम करने वालों को 10 से 50 लाख रुपये तक की एक्सग्रेशिया का लाभ मिलेगा. शर्त ये है कि वे भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए 50 लाख रुपये के नए बीमा कवर में न आते हों.

उन्होंने निजी अस्पतालों से आग्रह करते हुए कहा कि वे कोरोना प्रभावित रोगियों को चिकित्सा देखभाल से मना न करें. उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ने के लिए राज्य सरकार द्वारा बनाए गए कोरोना रिलिफ फंड (सीआरएफ) में अब तक 24 करोड़ रुपये की रकम मिली है.

हरियाणा में कितने केस



सीएम ने बताया कि वर्तमान में लगभग 13,000 लोगों को निगरानी में रखा गया है जबकि 323 लोग अस्पताल में भर्ती हैं. 694 लोगों के नमूने लिए गए हैं जो कोरोना पोजिटिव रोगियों के संपर्क में आए हैं, इनमें से 543 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है. वर्तमान में राज्य में पॉजिटिव मामलों की संख्या 16 है क्योंकि कुल 29 ऐसे मामलों में से 13 को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है.



 covid-19, coronavirus test, haryana government, social distancing, Private hospitals, Doctors, nurses, कोविड-19, कोरोनोवायरस टेस्ट, हरियाणा सरकार, सोशल डिस्टेंसिंग, प्राइवेट हॉस्पिटल, डॉक्टर, नर्स, Manohar Lal Khattar, मनोहर लाल खट्टर
मनोहरलाल खट्टर ने किसानों को भी राहत दी है


कर्ज लेने वाले किसानों को थोड़ी राहत

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने कहा है कि कोरोनावायरस संकट की वजह से किसानों द्वारा लिए गए फसली कर्ज की किश्त जमा करने की तारीख 15 अप्रैल से आगे बढ़ा दी गई है. अब राज्य में किसान 15 अप्रैल की बजाय 30 जून तक फसली ऋण के किश्त चुका सकेंगे. इसके साथ ही उन्हें ब्याज की आर्थिक सहायता का लाभ भी मिलेगा.

ये भी पढ़ें:

मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना: 6.29 लाख परिवारों के बैंक अकाउंट में भेजे गए 4-4 हजार रुपये

Covid-19: गांवों में ऐसे रह रहे हैं दिल्ली-एनसीआर और मुंबई से गए श्रमिक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 2, 2020, 12:28 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading