बरोदा उपचुनाव पर बोले दुष्यंत चौटाला- हमारे वोट ट्रांसफर हुए तभी योगेश्वर को मिले 14 हजार ज्यादा वोट

बरोदा उपचुनाव को लेकर डिप्टी सीएम ने कहा कि वोट ट्रांसफर हुआ है.
बरोदा उपचुनाव को लेकर डिप्टी सीएम ने कहा कि वोट ट्रांसफर हुआ है.

बरोदा उपचुनाव (Baroda by-election) पर हरियाणा (Haryana) के डिप्टी चीफ मिनिस्टर दुष्यंत चौटाला (Deputy CM Dushyant Chautala) बोले कि हमारे वोट ट्रांसफर हुए हैं तभी योगेश्वर दत्त (Yogeshwar Dutt) को पिछली बार के मुकाबले 14 हजार ज्यादा वोट मिले हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 12, 2020, 7:26 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. बरोदा विधानसभा के उपचुनाव के नतीजों पर मुख्यमंत्री के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुये डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उनकी पार्टी जजपा के वोट ट्रांसफर हुये हैं, जिसके चलते योगेश्वर दत्त को पिछली बार से 14 हजार अधिक वोट मिले हैं. इस पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा था कि जजपा के सारे वोट ट्रांसफर नहीं हुए जिसके चलते हमें जीत नहीं मिली हैं.

उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि किसका वोट कहां ट्रांसफर हुआ यह तो सिर्फ मतदाता जान सकता है. कई गांव में पिछली बार जहां कांग्रेस जीती थी, इस बार योगेश्वर को वोट मिले हैं तो क्या कांग्रेस का वोट योगेश्वर को ट्रांसफर हो गया. दोनों संगठनों के कार्यकर्ताओं की दिन रात मेहनत का ही नतीजा है कि योगेश्वर को जहां पिछली बार 36 हजार वोट मिले थे वहां पर इस बार 51 हजार वोट मिले हैं.

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने दावा किया है कि बरोदा उपचुनाव में हार के बाद प्रदेश में सत्तासीन बीजेपी और जेजेपी गठबंधन पहले से ज्यादा राजनीतिक तौर पर मजबूत हुआ है. चंडीगढ़ में उन्होंने कहा की बरोदा उपचुनाव के नतीजे में गठबंधन प्रत्याशी को पिछली बार के मुकाबले 14000 ज्यादा वोट मिले हैं, जो जनता के बीच में गठबंधन की लोकप्रियता और प्यार को दर्शाता है.



BJP के इस सांसद की फिसली जुबान- सैनिकों की शहादत को बताया देश के लिए अच्छी बात
दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उपचुनाव के दौरान जनमत कांग्रेस के पक्ष में रहा, क्योंकि पिछले तीन आम चुनाव में भी उसी की पार्टी के प्रत्याशी विजयी हुये थे, हालांकि उन्होंने माना कि उपचुनाव में कुछ कमियां रह गई हैं, जिन्हें अगले 4 साल में गठबंधन सरकार पूरा करने की कोशिश करेगी. उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नेता विपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा के उस बयान को भी खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने कहा था कि बरोदा उपचुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद प्रदेश की गठबंधन सरकार हिल जाएगी. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की पहले भी 31 सीट थीं और अब भी 31 सीट हैं, जबकि सरकार हिलाने के लिए 46 सीटों की जरूरत पड़ेगी. ऐसे में 1 सीट से कैसे कुछ बदलाव हो सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज