बल्लभगढ़ हत्याकांड: निकिता के पिता बोले- बेटी को धर्म परिवर्तन कर शादी के लिए परेशान करता था तौसीफ

फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में सोमवार को अग्रवाल कॉलेज से परीक्षा देकर निकल रही छात्रा की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी (CCTV फुटेड से वीडियो ग्रैब)
फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में सोमवार को अग्रवाल कॉलेज से परीक्षा देकर निकल रही छात्रा की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी (CCTV फुटेड से वीडियो ग्रैब)

Nikita Murder Case: निकिता तोमर के पिता के मुताबिक दो वर्ष पूर्व भी तौसीफ ने उनकी बेटी का अपहरण कर लिया था. तब पुलिस ने केस दर्ज कर दो घंटे के अंदर निकिता को बरामद कर लिया था. हालांकि इसके बाद पुलिस की पहल पर थाने में दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 27, 2020, 11:54 PM IST
  • Share this:
बल्लभगढ़. हरियाणा के फरीदाबाद (Faridabad) के बल्लभगढ़ में कॉलेज छात्रा (Ballabhgarh College Girl Murder) की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या मामले (Nikita Murder) को लेकर बड़ा बवाल खड़ा हो गया है. पीड़ित परिवार इंसाफ की मांग को लेकर मंगलवार को दिल्ली-मथुरा नेशनल हाईवे पर धरने पर बैठ गया. उन्होंने वारदात में शामिल दोनों युवकों तौसीफ और रेहान पर फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलाकर उन्हें फांसी की सजा देने की मांग की. फरीदाबाद पुलिस-प्रशासन ने मंगलवार की शाम छात्रा के परिजनों और आक्रोशित लोगों को समझा-बुझा कर जाम खुलवाया. पुलिस ने पोस्टमॉर्टम करवाने के बाद निकिता का शव उसके परिवार को सौंप दिया जिसके बाद उन्होंने देर शाम उसका अंतिम संस्कार किया.

निकिता तोमर के पिता ने बताया कि गोली मारने वाला तौसीफ उस पर लगातार धर्म परिवर्तन कर शादी करने के लिए दबाव डाल रहा था. जिसे निकिता ने इनकार कर दिया था. उनके मुताबिक दो वर्ष पूर्व भी तौसीफ ने उनकी बेटी का अपहरण कर लिया था. तब पुलिस ने केस दर्ज कर दो घंटे के अंदर निकिता को बरामद कर लिया था. हालांकि इसके बाद पुलिस की पहल पर थाने में दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया था.
पुलिस के मुताबिक आरोपी तौसीफ और निकिता स्कूल के दिनों से एक-दूसरे को जानते थे.

सोमवार को कॉलेज के बाहर छात्रा को सरेआम मार दी थी गोली
बता दें कि सोमवार को बल्लभगढ़ में अग्रवाल कॉलेज के बाहर 21 वर्षीय युवती की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. मृतक युवती निकिता परीक्षा देकर कॉलेज से बाहर निकल रही थी. इस दौरान बाहर सफेद रंग की आई-20 कार में मौजूद दो युवकों ने उसे जबरन किडनैप कर कार में बिठाने की कोशिश की. लेकिन निकिता ने शोर मचाया और वहां से भागी तो आरोपी तौसीफ ने पीछा कर उसे नजदीक से गोली मार दी. गोली लगने से निकिता जमीन पर गिर पड़ी और उसकी मौत हो गई. इस दौरान यह पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई.




घटना के बाद पुलिस ने छापेमारी कर पांच घंटे के अंदर मुख्य आरोपी तौसीफ को गिरफ्तार कर लिया था. वहीं दूसरे आरोपी रेहान को पुलिस ने मंगलवार को नूंह जिले से धर दबोचा. पुलिस ने मंगलवार को ही दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें दो दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज