Baroda By election: CM खट्टर को चुनौती पर कृष्णपाल गुर्जर बोले- हुड्डा खुद कांग्रेस के लिए चुनौती, क्या लड़ेंगे चुनाव

केन्द्रीय मंत्री कृष्णपाल गुर्जर गांव नवादा में ग्रामीणों को स्वामित्व कार्ड बांटने पहुंचे थे. (फाइल फोटो)

बड़ौदा उपचुनाव (Baroda By election) को लेकर गठबंधन सरकार के दलों ने ये निर्णय लिया है कि उम्मीदवार गठबंधन का होगा, पर चुनाव भाजपा के चिह्न कमल के फूल पर ही लड़ा जाएगा 

  • Share this:
फरीदाबाद. पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupendra Singh Hudda) खुद कांग्रेस के लिए चुनौती हैं, वो बड़ौदा से क्या चुनाव लड़ेंगे. ये कहना है केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल गुर्जर (Krishnapal Gurjar) का. दरअसल गुर्जर हुड्डा द्वारा सीएम मनोहर लाल खट्टर को बड़ौदा से चुनाव लड़ने की चुनौती देने से जुड़े सवाल का जवाब दे रहे थे.

रविवार को केन्द्रीय मंत्री गांव नवादा में ग्रामीणों को स्वामित्व कार्ड देने पहुंचे थे. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद ऐसा पहला मौका है जब ग्रामीणों को लाल डोरा के अंदर उनके मकानों का स्वामित्व मिलेगा. इस योजना से ग्रामीणों के पास लाल डोरा के अंदर बने अपने मकानों के कागजात होंगे. और अब वे सस्ती दरों पर लोन भी ले सकते हैं.

इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने कृषि बिलों को लेकर कहा कि मोदी सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने के लिए यह महत्वपूर्ण कदम उठाया है. अब किसान खुले बाजार में अपनी फसल को बेच सकते हैं. लेकिन कांग्रेस और कुछ दलाल इस बिल का विरोध कर रहे हैं.

दावेदारों पर केन्द्रीय नेतृत्व लेगा फैसला 

उन्होंने कहा कि बड़ौदा का चुनाव भाजपा जीतने जा रही है. ऐसे में जितने भी नेताओं ने अपनी दावेदारी जताई है उस पर फैसला केंद्रीय नेतृत्व करेगा. इससे पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल और प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ सभी दावेदारों पर चर्चा कर रहे हैं.

बता दें कि बड़ौदा उपचुनाव को लेकर गठबंधन सरकार के दलों ने उम्मीदवार और चुनाव चिह्न को लेकर तस्वीर साफ कर दी है. उपचुनाव को लेकर भाजपा-जजपा की शुक्रवार को दिल्ली में पहली बैठक हुई. जिसमें ये निर्णय लिया गया कि उम्मीदवार गठबंधन का होगा, पर चुनाव भाजपा के चिह्न कमल के फूल पर ही लड़ा जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.