चोरों ने उड़ाए बिजली के तार, 12 से अधिक गांवों की बिजली गुल
Faridabad News in Hindi

चोरों ने उड़ाए बिजली के तार, 12 से अधिक गांवों की बिजली गुल
हरियाणा में मेवात जिले के नूहं खंड के करीब 12 से अधिक गांवों की बिजली रविवार से गुल है. बिजली गुल होने के पीछे कोई तकनीकि खराबी नहीं बल्कि तार का चोरी हो जाना है. तार चोरी से साथ-साथ चार खंबे भी अज्ञात चोरों ने तोड़े.

हरियाणा में मेवात जिले के नूहं खंड के करीब 12 से अधिक गांवों की बिजली रविवार से गुल है. बिजली गुल होने के पीछे कोई तकनीकि खराबी नहीं बल्कि तार का चोरी हो जाना है. तार चोरी से साथ-साथ चार खंबे भी अज्ञात चोरों ने तोड़े.

  • Last Updated: September 15, 2015, 10:19 AM IST
  • Share this:
हरियाणा में मेवात जिले के नूहं खंड के करीब 12 से अधिक गांवों की बिजली रविवार से गुल है. बिजली गुल होने के पीछे कोई तकनीकि खराबी नहीं बल्कि तार का चोरी हो जाना है. तार चोरी से साथ-साथ चार खंबे भी अज्ञात चोरों ने तोड़े.

रविवार का दिन छुट्टी का दिन होने की वजह से 18 गांव की बिजली आपूर्ति के लिए लोगों को सोमवार तक का इंतजार करना पड़ा. बिजली विभाग नूहं के एसडीओ मनमोहन ने इसकी शिकायत नूहं पुलिस को कर दी है.

बिजली विभाग के मुताबिक रायपुरी-उजीना गांव के बीच करीब हजार मीटर लंबी एल्युमिनियम की तार चोरी कर ली है. विभाग के मुताबिक चोरी हुए बिजली के तारों की कीमत करीब 76 हजार रुपए के हैं. जिस लाइन को अज्ञात चोरों ने बीती रात उड़ाया गया है.



उसकी वजह से उजीना, संगेल, जाजुका, चिलावली, गुंडबास, जयसिंह पुर, कमरचंदका, रणसीका, कोंतलाका, ढेंकली, बीबीपुर, ठेकड़ा, बझेड़ा, सुलतापुर, देवला नंगली इत्यादि गांवों की बत्ती गुल है.
अब सवाल यह है कि जिन गांवों की बिजली तार चोरी होने की वजह से बत्ती गुल है वो सभी हाई रिस्क जोन में आते हैं. गावों के लोगों का कहना है कि गांव में जलभराव की वजह से मलेरिया फ़ैला हुआ है.

पहले ही उपरोक्त गांवों में सैकड़ों लोग मलेरिया की चपेट में हैं. एक तो गर्मी, ऊपर से मच्छरों का आतंक, लोगों की रात की नींद और दिन का चैन छीन रहा है.

बिजली विभाग ने तक़रीबन डेढ़ दर्जन गांवों की बिजली आपूर्ति बहाल करने में तेजी नहीं दिखाई तो बिजली विभाग के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग ही नहीं बल्कि समूचे प्रशासन की नींद उड़ सकती है.

पुलिस ने शिकायत मिलते ही कार्यवाई शुरू कर दी है. बिजली विभाग के लाइनमैन ने माना की गावों में बिजली ना होने की वजह से बिमारी के प्रकोप से लोग परेशान हैं.

पानी के लिए भी लोग तरस रहे हैं. उन्होंने कहा कि बिजली के तारों को जोड़ने के लिए टीम काम कर रही है उम्मीद है की आज शाम तक ग्रामीणों को बिजली मिल पाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज