होम /न्यूज /हरियाणा /

शहीद मनोज भाटी के घर पहुंचे CM खट्टर, परिवार के एक सदस्य के लिए नौकरी की घोषणा की

शहीद मनोज भाटी के घर पहुंचे CM खट्टर, परिवार के एक सदस्य के लिए नौकरी की घोषणा की

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शहीद के परिवार को सांत्वना दी.

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शहीद के परिवार को सांत्वना दी.

बता दें कि जम्मू कश्मीर के राजौरी सेक्टर के परगल आर्मी कैंप पर गुरुवार सुबह आतंकियों ने हमला कर दिया था. इस आतंकी हमले में भारतीय सेना के तीन जवान शहीद हो गए। सेना ने दो आतंकियों को भी मार गिराया था. शहीदों में बल्लभगढ़ के शाहजहांपुर गांव निवासी बाबूलाल भाटी के छोटे बेटे राइफलमैन मनोज कुमार भाटी भी थे.

अधिक पढ़ें ...

अनिल राठी

फरीदाबाद. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कश्मीर के राजौरी में आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हुए मनोज भाटी के गांव शाहजहांपुर पहुंचकर परिवार को सांत्वना दी. इस दौरान उन्होंने कहा कि शाहजहांपुर स्कूल का नाम शहीद मनोज भाटी के नाम पर होगा और सरकार द्वारा दी जा रही अन्य सुविधाएं भी परिवार को जल्द मिल जाएंगी. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि परिवार के एक सदस्य को नौकरी भी हरियाणा सरकार की तरफ से दी जाएगी.

गांव के लोगों की जो अन्य मांग होगी, उन पर भी विचार किया जाएगा. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शहीद मनोज भाटी की मूर्ति को पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि देने के बाद शहीद की पत्नी कोमल से मुलाकात की. शहीद की पत्नी कोमल की तरफ से नौकरी देने की मांग की गई. इस पर मुख्यमंत्री ने तुरंत हामी भरते हुए जल्द ही नौकरी देने का वादा किया.

पत्नी कोमल से मिलने के दौरान शहीद की मां सुनीता देवी और पिता बाबूलाल भी मौजूद रहे. शहीद मनोज भाटी के घर पहुंचे मुख्यमंत्री ने शोक जताने के बाद गांव के ही राहुल भाटी, जो यमुना नदी में डूब कर मौत हो गई थी उसके परिवार के वहां पहुंचकर भी शोक जताया.

बता दें कि जम्मू कश्मीर के राजौरी सेक्टर के परगल आर्मी कैंप पर गुरुवार सुबह आतंकियों ने हमला कर दिया था. इस आतंकी हमले में भारतीय सेना के तीन जवान शहीद हो गए। सेना ने दो आतंकियों को भी मार गिराया था. शहीदों में बल्लभगढ़ के शाहजहांपुर गांव निवासी बाबूलाल भाटी के छोटे बेटे राइफलमैन मनोज कुमार भाटी  भी थे.

Tags: Haryana news, Jawan martyr

अगली ख़बर