Home /News /haryana /

फरीदाबाद में अश्लील वीडियो के सहारे चल रहा ठगी का धंधा, टीचर, छात्र या फिर पुलिस कांस्‍टेबल... किसी को भी नहीं छोड़ा

फरीदाबाद में अश्लील वीडियो के सहारे चल रहा ठगी का धंधा, टीचर, छात्र या फिर पुलिस कांस्‍टेबल... किसी को भी नहीं छोड़ा

फरीदाबाद पुलिस की साइबर सेल को पिछले कुछ दिनों में ठगी की 30 से अधिक शिकायतें मिली हैं.

फरीदाबाद पुलिस की साइबर सेल को पिछले कुछ दिनों में ठगी की 30 से अधिक शिकायतें मिली हैं.

Faridabad News: हरियाणा के फरीदाबाद में अश्लील चैट और वीडियो कॉल के सहारे साइबर ठगी (Cyber Fraud) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. हैरानी की बात है कि इस दौरान आम लोगों के साथ छात्र और टीचर्स ही बल्कि पुलिस के जवान भी ठगी का शिकार हो रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

    फरीदाबाद. हरियाणा के फरीदाबाद (Faridabad)में अश्लील चैट और वीडियो कॉल कर लोगों को ब्लैकमेल करने के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. हैरानी की बात है कि साइबर ठगों ने आम लोगों के साथ छात्र, टीचर्स और पुलिस के जवानों को भी अपना शिकार बना डाला है. इसी वजह से बीते कुछ समय में फरीदाबाद पुलिस की साइबर सेल (Cyber Cell) को ठगी की 30 से अधिक शिकायतें मिल चुकी हैं.

    बता दें कि साइबर गैंग में शामिल युवतियां प्यार का झांसा देकर पहले वीडियो कॉल करती हैं और फिर अश्लील चैट कर लोगों को अपने जाल में फंसा लेती हैं. इसके बाद ब्लैकमेलिंग का असली खेल शुरू होता है. हाल ही में फरीदाबाद एनआईटी-3 के एक छात्र के पास अनजान नंबर से अश्लील वीडियो कॉल आई. वहीं, उसने भी झांसे में आकर वीडियो कॉल कर दी. इसके बाद ठगों ने उसको अश्लील वीडियो भेजकर 2 लाख रुपये मांगे. वहीं, युवक ने घबराकर यह बात अपने परिवार के बता दी. इसके बाद युवक के पिता ने साइबर सेल को शिकायत दी है.

    टीचर को भी बनाया शिकार, तो एएसआई भी चढ़ा हत्‍थे
    यही नहीं, इस गैंग ने हाल में ओल्ड फरीदाबाद के नामी स्‍कूल के एक टीचर को भी अपना शिकार बनाया था. जबकि अश्लील चैट का कुछ हिस्सा यूट्यूब पर अपलोड करके कई बार 5-5 हजार रुपये वसूल लिए गए, लेकिन जब साइबर ठगों की मांग जारी रही तो टीचर ने साइबर सेल में शिकायत दर्ज करा दी.

    वहीं, बीते दिनों फरीदाबाद के एक थाने का एएसआई भी युवती से दोस्ती के झांसे में आ गया. युवती ने उससे पहले दोस्‍ती बढ़ाई और फिर अश्लील वीडियो रिकॉर्ड करके उसे ब्लैकमेल किया. वहीं, मामला खत्म करने के लिए पुलिस वाले से उसके खाते में 10 हजार रुपये भी डलवा दिए, लेकिन पैसों के मांगने का सिलसिला नहीं थमा तो एएसआई को भी साइबर सेल से मदद मांगनी पड़ी.

    हैरानी की बात है कि इस गैंग में काफी संख्‍या में युवतियां शामिल हैं. वहीं, यह एक प्‍लानिंग के तहत लोगों को अपना शिकार बनाते हैं. लोगों को झांसे में लेने का सिलसिला मिस्‍ड कॉल से शुरू होता है. अगर उसकी तरफ से कॉल नहीं गई तो युवतियों की तरफ से व्‍हाट्सऐप या फेसबुक पर चैटिंग की शुरुआत की जाती है. इसके बाद जब बातचीत का सिलसिला शुरू हो जाता है, तो कुछ दिनों बाद अश्लील वीडियो कॉल को रिकॉर्ड कर ब्लैकमेलिंग का खेल शुरू हो जाता है.

    दिल्ली और मेवात हैं ब्लैकमेलर
    फरीदाबाद साइबर थाना प्रभारी बसंत कुमार के मुताबिक, बीते कुछ दिनों में वीडियो कॉलिंग से ब्लैकमेलिंग के मामले बढ़े हैं. जबकि इस गैंग का केंद्र मेवात और दिल्ली में हैं. हालांकि ये लोग फर्जी आईडी यूज करते हैं, इस वजह से इनको ट्रेस करने में दिक्कत आ रही है.

    Tags: Cyber Crime, Cyber Crime News, Cyber Fraud, Cyber ​​Thug, Cybercrime, Faridabad News, Haryana police

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर