गुरुग्राम: एम्बेसी अफसर कोठी में चला रहा था अवैध कैसिनो, पुलिस पहुंची तो देने लगा ओहदे की धौंस

गुड़गांव के पॉश इलाके की कोठी में चल रहा था कैसिनो.

गुड़गांव के पॉश इलाके की कोठी में चल रहा था कैसिनो.

Haryana News : करोड़ों के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ करते हुए गुरुग्राम पुलिस ने एक कोठी में चल रहे जुए के इस पॉश अड्डे के मास्टरमाइंड समेत पांच लोगों को हिरासत में लिया है. नेक्सस के बारे में जांच चल रही है.

  • Share this:

गुरुग्राम. पुलिस ने छापा मारते हुए सुशांत लोक स्थित बी ब्लॉक, 33 A प्रॉपर्टी से प्लास्टिक चिप्स, 100 से ज्यादा प्लेइंग कार्ड (ताश की गड्डियां) के पैकेट्स के साथ 300 से ज्यादा महंगी विदेशी शराब मौके से ज़ब्त की और पॉश इलाके में चल रहे एक कैसिनो का भंडाफोड़ किया. यही नहीं, कैसिनो चलाने के आरोप में पुलिस ने दूतावास के एक प्रोटोकॉल अफसर को मौके से ही गिरफ्तार किया. जर्मनी दूतावास के प्रोटोकॉल अधिकारी बताए गए प्रवेश कपूर के साथ चार अन्य लोगों को भी पुलिस ने हिरासत में लिया.

पुलिस को कुछ समय से सेक्टर 29 में बड़े कैसिनो नेटवर्क के बारे में इनपुट मिल रहे थे. इनके आधार पर पुलिस ने जब कार्रवाई की तो जुए के अड्डे के रूप में एक बड़े पॉश कैसिनो का भंडाफोड़ हुआ. बताया गया है कि गिरफ्तारी के दौरान प्रवेश कपूर ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल करने की पूरी कोशिश की. लेकिन मास्टरमाइंड को मौके से ही सेक्टर 29 के थाना प्रभारी अमन सिंह की टीम ने गिरफ्तार कर लिया.

haryana news in hindi, haryana samachar, gurugram casino, gurugram bar, हरियाणा न्यूज़, हरियाणा समाचार, ​गुड़गांव में कैसिनो, गुड़गांव में बार
ताश और जुए के कॉइन्स के साथ ही भारी मात्रा में शराब भी कैसिनो कोठी से बरामद की गई.

कितना बड़ा है नेक्सस? जांच शुरू
पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर यह रेड मारी थी और गिरफ्तारियां करने में सफलता हासिल की. अमन सिंह ने बताया कि सिटी के पॉश इलाके में अवैध कैसिनो कोई और नहीं बल्कि जर्मन दूतावास का प्रोटोकॉल अधिकारी ही चला रहा था. कपूर ने पुलिस को अपने ओहदे के दबाव में लाने की कोशिश भी की. सिंह ने यह भी कहा कि सीसीटीवी कैमरों को कब्ज़े में लेकर तफ्तीश शुरू कर दी गई है.

पुलिस यह भी जांच कर रही है कि इस कैसिनो और इसके मास्टरमाइंड के तार देश विदेश में कहां कहां से जुड़े हो सकते हैं. यह भी बताया गया ​चूंकि मामला केंद्रीय अधिकारी से जुड़ा है इसलिए गंभीरता से जांच करते हुए फूंक फूंककर कदम उठाए जा रहे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज