होम /न्यूज /हरियाणा /ईमानदारी की मिसाल! बस में 1 लाख छोड़कर चला गया यात्री, खलासी को मिला तो बुलाकर लौटाया

ईमानदारी की मिसाल! बस में 1 लाख छोड़कर चला गया यात्री, खलासी को मिला तो बुलाकर लौटाया

बल्लभगढ़ बस डिपो बुलाकर यात्री को उसका पैसा लौटा दिया गया.

बल्लभगढ़ बस डिपो बुलाकर यात्री को उसका पैसा लौटा दिया गया.

हल्द्वानी से बल्लभगढ़ के लिए बस में सवार एक का रास्ते में बैग से कंबल निकालते वक्त टिफिन में रखा एक लाख रुपए सीट पर छूट ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट- अनिल कुमार राठी

    फरीदाबाद. आज के दौर में जहां पैसों के लिए अच्छे अच्छों का ईमान बिगड़ जाता है, वहीं बल्लभगढ़ बस डिपो पर हरियाणा रोडवेज के परिचालक ने बस की सीट पर मिले एक लाख रुपये उक्त यात्री को लौटा कर साबित कर दिया है कि ईमानदारी आज भी जिंदा है.

    दरअसल हल्द्वानी से बल्लभगढ़ बस डिपो की बस में सवार यात्री पवन कुमार गुप्ता रास्ते में बैग से कंबल निकालते वक्त एक टिफिन में रखा एक लाख रुपए सीट पर ही भूल गया और अक्षरधाम उतर गया. बस से उतरने के बाद उसे एहसास हुआ कि उसके पैसे बस में ही छूट गए. उसने फरीदाबाद में रहने वाली अपनी बेटी को यह बात बताई. जिसके बाद उसकी बेटी ने चालक परिचालक का नंबर उपलब्ध करवाया और परिचालक को फोन किया. परिचालक ने उन्हें बताया कि उनके पैसे बस अड्डे में जमा करवा दिए गए हैं. इसलिए वह अपना टिकट और पैसों की पहचान आकर बताएं. इसके बाद यात्री पवन कुमार गुप्ता बस अड्डे पर पहुंचे और अपने टिकट और रुपयों की पहचान बताई. जिसके बाद उन्हें उनके पैसे लौटा दिए गए.

    पवन कुमार का कहना था कि परिचालक ने ईमानदारी का परिचय दिया है और वह उसे हल्द्वानी में सम्मानित करेगा. बस के परिचालक लालचंद ने बताया कि अक्सर जब भी बस खाली होती है तो वह रूटिन के अनुसार बस को चेक करते हैं कि कहीं किसी यात्री का सम्मान तो नहीं छूट गया. और जब उन्होंने देखा कि एक सीट पर टिफिन रखा हुआ है तो उन्होंने उसे खोला तो उसमें एक लाख रुपए रखे मिले. तब उन्होंने यह पैसे बस अड्डे में जाकर जमा करवा दिया.

    परिचालक का कहना था कि हरियाणा रोडवेज की बसों में जब भी किसी यात्री का कोई सामान रह जाता है तो चालक परिचालक उस समन को बस अड्डे में जमा करवा देते हैं. वहीं बस अड्डे पर तैनात डीआई भागीरथ शर्मा ने परिचालक लालचंद की ईमानदारी पर उसकी प्रशंसा की.

    Tags: Faridabad News, Haryana news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें