होम /न्यूज /हरियाणा /कार सहित डूब रहे डॉक्टर के लिए रात को फरिश्ता बनी पुलिस, महज 3 मिनट में बचाई जान

कार सहित डूब रहे डॉक्टर के लिए रात को फरिश्ता बनी पुलिस, महज 3 मिनट में बचाई जान

हरियाणा पुलिस ने कार समेत पानी में डूब रहे एक डॉक्टर की जान बचाई है

हरियाणा पुलिस ने कार समेत पानी में डूब रहे एक डॉक्टर की जान बचाई है

Haryana News: फरीदाबाद पुलिस ने रात को आये कॉल को हाथो हाथ लिया और महज 3 मिनट के अंदर पानी में कार सहित डूब रहे डॉक्टर ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

डॉक्टर अरविंद बहुत ज्यादा बारिश होने के कारण रास्ता भटक गए थे
पुलिस पीड़ित के साढ़े तीन बजे कॉल करने के सिर्फ 3 मिनट के भीतर मौके पर पहुंच गई
डॉ अरविंद बमुश्किल खिड़की खोलकर गाड़ी की छत पर चढ़े थे

रिपोर्ट- अनिल कुमार राठी

फरीदाबाद. हरियाणा के फरीदाबाद में सुबह के 11 बजे से आसमान से बरसात नहीं लोगों के लिए आफत बरस रही थी, जिसके कारण लोगों भारी परेशानी का सामना करना पड़ा. इसका एक उदहारण देर रात को देखने को मिला जब पुलिस लगभग जल समाधि ले चुके एक डॉक्टर को बचाने फरिश्ता बनकर जा पहुंची. पुलिस ने देर रात एक सराहनीय कार्य करते हुए एक डॉक्टर की उस वक्त मदद की जब उनकी कार पूरी तरह से बाईपास रोड पर पानी में डूब चुकी थी. पुलिस को पीड़ित ने साढ़े तीन बजे कॉल किया और कॉल करने के सिर्फ 3 मिनट के भीतर ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और रास्तों से अनजान कार में फंसे डॉक्टर की जान बचा ली.

इस घटना के बाद जहां पीड़ित डॉक्टर फरीदाबाद पुलिस का धन्यवाद कर रहे हैं तो वही फरीदाबाद पुलिस इसे अपनी बड़ी कामयाबी बता रही है. दरअसल करीब साढ़े तीन बजे सराय एरिया में फरीदाबाद बायपास रोड पर एक गाड़ी बुरी तरह फंस चुकी थी. पीड़ित डॉ अरविंद कुमार पांडेय मैनपुरी से फरीदाबाद होते हुए दिल्ली जा रहे थे. रास्ता खराब और अनजान होने के कारण उनकी गाड़ी सड़क पर भरे पानी में धंस गई. पानी गाड़ी के टायरों और बोनट से होता हुआ गाड़ी की छत तक आ पहुंचा.

आसपास मदद के लिए कोई भी मौजूद नहीं था. डॉ अरविंद जैसे-तैसे खिड़की खोल कर गाड़ी की छत पर चढ़े और वहां से उन्होंने इमरजेंसी नंबर डायल किया. पुलिस को जैसे ही इसके बारे में सूचना प्राप्त हुई तो थाना सराय से हवलदार नरेंद्र और एसआई  भगवान थाना प्रभारी की गाड़ी लेकर मात्र 3 मिनट में घटनास्थल पर पहुंच गए, जिन्होंने सतर्कता और बुद्धिमता से डॉ अरविंद को बाहर सुरक्षित निकाल लिया. पल्ला पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और पुलिस टीम ने जेसीबी बुलवाकर डॉक्टर की गाड़ी को बाहर निकाला.

डॉ अरविंद ने फरीदाबाद पुलिस का धन्यवाद करते हुए कहा कि वह दो महीने बाद दिल्ली वापिस आए थे और बहुत ज्यादा बारिश होने के कारण रास्ता भटक गए. उनकी गाड़ी गलत रास्ते पर चली गई थी. उनकी गाड़ी पूरी तरह से डूब चुकी थी लेकिन 101 पर मदद मांगने पर सराय तथा पल्ला थाने की टीम मात्र 3 मिनट में उनके पास पहुंच गई. उन्होंने बहुत ही बहादुरी से उनकी मदद करते हुए पानी में डूबने से से सकुशल बाहर निकाल लिया जिससे उनकी जान बच सकी.

Tags: Haryana news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें