अन्नदाताओं का आंदोलन हुआ तेज, मांगे नहीं मानी तो करेंगे IMT बंद

फरीदाबाद सेक्टर 31 स्थित एचएसआईआईडीसी के कार्यालय के बाहर सैंकडों की संख्यां में किसान पिछले 87 दिनों ने आईएमटी में बढ़े हुये मुआवजे, प्लाट और बच्चो को नौकरी दी जाने की मांग को लेकर धरने पर बैठे हैं.

ETV Haryana/HP
Updated: March 14, 2018, 4:32 PM IST
अन्नदाताओं का आंदोलन हुआ तेज, मांगे नहीं मानी तो करेंगे IMT बंद
किसानों का प्रदर्शन
ETV Haryana/HP
Updated: March 14, 2018, 4:32 PM IST
फरीदाबाद आईएमटी में बढ़े हुए मुआवजे, प्लॉट और बच्चों को नौकरी दिए जाने की मांग को लेकर पिछले तीन माह से धरने पर बैठे किसानों ने आज अपने प्रदर्शन को तेज करते हुए सेक्टर 31 स्थित एचएसआईआईडीसी के कार्यालय का घेराव किया. जहां पहले से तैनात किये गए भारी पुलिस बल किसानों को नाकाबंदी कर कार्यालय में घुसने नहीं दिया.

किसानों ने कार्यालय के सामने बैठकर जमकर सरकर के खिलाफ नारेबाजी की. जहां किसानों ने एचएसआईआईडीसी  के अधिकारी डीएस भट्टी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए उनके तबादले की मांग की और चेतावनी दी कि अगर जल्द उनकी मांगें नहीं मानी गई तो अब वह प्रदर्शन नहीं आईएमटी को बंद करेंगे.

किसानों की माने तो 5 गांव की जमीन आईएमटी में अधिग्रहीत कर गई थी जिसका बढ़ा हुआ मुआवजा अभी तक नहीं दिया गया. प्लॉट देने का वादा किया गया था जो अभी किसी भी किसान को नहीं मिला है. वहीं एक परिवार के सदस्य को नौकरी देने की बात भी की गई थी वो भी पूरा नहीं हुआ है.

उन्होने कहा इसके पीछे एचएसआईआईडीसी में बैठा भ्रष्ट अधिकारी डीएस भट्टी है जिसका तबादला किया जाये. क्योंकि जमीन आईएमटी में जाने के बाद सभी किसान बेराजगार हो गये हैं जब तक जमीन थी तब तक फसल उगा लेते थे मगर अब उनके पास कुछ नहीं हैं, इसलिये उनकी मांग है कि जल्द उनकी सभी मांगे पूरी नहीं की गई तो अब वह प्रदर्शन नहीं आईएमटी को बंद करेंगे.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->