Assembly Banner 2021

Haryana News: 'उत्तर-दक्षिण' बयान पर घिरे राहुल गांधी, अनिल विज बोले- लोगों को आपस में लड़वाना चाहती है कांग्रेस

अनिल विज ने राहुल गांधी को जमकर लताड़ा है.

अनिल विज ने राहुल गांधी को जमकर लताड़ा है.

Haryana News: हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर उनके 'उत्तर-दक्षिण' वाले बयान को लेकर हमला बोला है. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस लोगों को आपस में लड़वाना चाहती है.

  • Share this:
गुरुग्राम. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) अपने 'उत्तर-दक्षिण' बयान को लेकर चौतरफा घिरते दिख रहे हैं. इस पर हरियाणा के गृह मंत्री और भाजपा नेता अनिल विज (Anil Vij) ने कांग्रेस नेता को जमकर लताड़ा है. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस लोगों को आपस में लड़वाना चाहती है. कांग्रेस ने अपनी विभाजनकारी नीति से 1947 में देश का विभाजन कर हिंदू-मुस्लमानों को लड़ाया, 1984 में सिक्खों का कत्लेआम करवाया और अब उत्तर व दक्षिण के लोगों को लड़वाना चाहती है. हालांकि कांग्रेस राहुल गांधी के बयान को लेकर लगातार सफाई पेश कर रही है.

इस बीच पार्टी के वरिष्‍ठ नेता आनंद शर्मा (Anand Sharma) ने कहा, 'राहुल गांधी ने अपने किसी अनुभव के आधार पर टिप्पणी की है, मुझे किसी क्षेत्र के अपमान की बात मुझे नहीं दिखती. राहुल गांधी ही स्पष्टीकरण दे सकते हैं. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने देश को एक समझा है, हमने कभी क्षेत्र, भाषा और धर्म के आधार पर लकीर नहीं खींची.'

हुड्डा के अविश्वास प्रस्ताव पर अनिल विज का तंज
हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) के अविश्वास प्रस्ताव के बयान पर हमला बोलते हुए विज ने कहा कि वह पहले अपने पार्टी का विश्वास हासिल करें. उनकी पार्टी का साथ उनके पास नहीं है. एक राइट मुंह कर के बैठता है तो दूसरा अपना मुंह लेफ्ट में रखता है. यही नहीं, उनके लोग एक साथ मंच साझा नहीं करते. साथ ही दावा किया कि हुड्डा जो करना चाहें कर सकते हैं, लेकिन वह चारो खाने चित होंगे.
फरीदाबाद मेयर और एसडीओ मामले पर विज ने दिए जांच के आदेश


अनिल विज ने फरीदाबाद मेयर और एसडीओ मामले में जांच के आदेश दिए हैं. साथ ही कहा कि गुरुग्राम नगर निगम और फरीदाबाद नगर निगम की ऑडिट जल्‍दी होगी और जो भी दोषी होगा उस पर एक्‍शन लिया जाएगा. इसके अलावा डीजीपी मनोज यादव की नियुक्ति पर कहा कि वह कभी भी केंद्र में जा सकते हैं. हम सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन पर काम कर रहे हैं. हालांकि इस दौरान विज किसानों के मुद्दे पर कुछ भी कहने से बचते रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज