डेंगू के नाम पर निजी क्लिनिक कर रहे मोटी कमाई
Faridabad News in Hindi

डेंगू के नाम पर निजी क्लिनिक कर रहे मोटी कमाई
हरियाणा में स्वास्थ्य विभाग मेवात के इंतजाम जिले में डेंगू और मलेरिया को रोकना नाकाफी नजर आ रहा है. डेंगू से लोगों की जान जा रही है, मलेरिया भी डराने में लगा है.

हरियाणा में स्वास्थ्य विभाग मेवात के इंतजाम जिले में डेंगू और मलेरिया को रोकना नाकाफी नजर आ रहा है. डेंगू से लोगों की जान जा रही है, मलेरिया भी डराने में लगा है.

  • Last Updated: September 27, 2015, 7:37 PM IST
  • Share this:
हरियाणा में स्वास्थ्य विभाग मेवात के इंतजाम जिले में डेंगू और मलेरिया को रोकना नाकाफी नजर आ रहा है. डेंगू से लोगों की जान जा रही है, मलेरिया भी डराने में लगा है.

स्वास्थ्य विभाग भले ही डेंगू के मामलों को कम बता रहा हो लेकिन निजी क्लिनिक चिकित्सक साफ-साफ कह रहे हैं कि उनके पास डेंगू बुखार से पीड़ित लोग लगातार आ रहे हैं.

हजका जिलाध्यक्ष सफी मोहमद ने कहा की भाजपा सरकार डेंगू तथा मलेरिया को रोकने के जो दावे कर रही है, उसमें कतई सच्चाई नहीं है.



उन्होंने कहा की सरकारी अस्पताल तो दूर मेडिकल काॅलेज नल्हड में भी दवाइयों तक से लेकर डाक्टरों का कोई इंतजाम नहीं है.
जिलाध्यक्ष ने कहा कि उनके बेटे को पुन्हाना के एक निजी क्लिनिक में डेंगू की पुष्टि हुई है. जहां अब भी इम्तियाज का इलाज चल रहा है.

सफी ने कहा की निजी क्लिनिक मोटी कमाई कर रहे हैं. सरकारी अस्पतालों में इंतजाम नहीं हैं. जनता पिस रही है. कई दर्जन लोगों की मौत हो चुकी हैं और मलेरिया तथा डेंगू से तकरीबन 4-5 हजार लोग पीड़ित हैं.

हजका नेता ने कहा की अनिल विज बातें तो बड़ी बड़ी कर लेते हैं लेकिन जनता को इस बीमारी से बचाने के लिए उनके तथा महकमें के पास कुछ नहीं है.

हजका नेता का कहना है कि गुलालता, सिरोली, हथनगांव, जेवंत जैसे कई गांव पूरी तरह से पुन्हाना खंड के बुखार की जद में आ चुके हैं.

मौतों का सिलसिला लगातार जारी है. स्वास्थ्य विभाग की बदइंतजामी के कारण लोगों को छोलाछाप डाॅक्टरों से इलाज कराना पड़ रहा है.

प्रशासन के आला अधिकारी भी ए सी की हवा में बैठे हैं. जनता परेशान हो चुकी है. इलाके के दर्जनों गांवों में बरसात का पानी जमा है.
कुल मिलाकर अभी भी हालात अच्छे नहीं कहे जा सकते.

विभाग स्टाफ, दवाई, गाड़ियों की कमी से जूझ रहा है. सरकार भी इस बारे में बखूबी जानती है लेकिन समाधान किसी के पास भी दिखाई नहीं दे रहा.

ग्रामीण भी साफ -साफ कह रहे हैं कि आला अधिकारी कई बार गांव हथनगांव आए लेकिन मौत का सिलसिला डेंगू और मलेरिया की वजह से रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं.

हजका नेता तो यहां तक दावा कर दिया कि अधिकारी उनके साथ गांवों दौरा करें तो हकीकत का पता चल जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading