सरकारी स्कूल के चपरासी ने हेलिकॉप्टर में बैठकर मनाया रिटायरमेंट का जश्न, कहा- सपना हुआ पूरा

फरीदाबाद में एक चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी ने मंगलवार को अपने रिटायरमेंट का जश्न हेलिकॉप्टर में उड़ान भरकर मनाया. साथ ही इस जश्न में अपने परिवार को भी शामिल किया.

deepak kumar | News18 Haryana
Updated: August 1, 2019, 10:13 AM IST
deepak kumar | News18 Haryana
Updated: August 1, 2019, 10:13 AM IST
हरियाणा के फरीदाबाद में एक चपरासी ने मंगलवार को अपने रिटायरमेंट का जश्न हेलिकॉप्टर में उड़ान भरकर मनाया. साथ ही इस जश्न में अपने परिवार को भी शामिल किया. कर्मचारी ने अपने परिवार के साथ हेलिकॉप्टर में बैठकर गांव के चक्कर लगाए. बता दें कि हेलिकॉप्टर में घूमने का पूरा खर्चा लगभग सवा तीन लाख रुपये आया, जिसके लिए उसने अपने रिश्तेदारों से उधार लिया था.

हेलीकॉप्टर में बैठकर मनाया रिटायरमेंट का जश्न
दरअसल फरीदाबाद के नीमका गांव के सरकारी स्कूल के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कूड़ेराम का सपना था कि वह एक दिन हेलिकॉप्टर पर जरूर बैठे, जिसको पूरा करने के लिए कूड़ेराम ने अपने रिटायरमेंट का दिन चुना. कूड़ेराम ने मंगलवार को हुए रिटायरमेंट के दौरान खुद तो हेलिकॉप्टर की सवारी की है, साथ ही साथ अपने पूरे परिवार को भी हेलीकॉप्टर में घुमाया. इस सपना को पूरा करने के लिए कूड़ेराम ने अपने रिश्तेदारों से साढ़े तीन लाख रुपए का कर्ज भी लिया था. कूड़ेराम के मुताबिक बचपन  में वो हेलिकॉप्टर पर उड़ने का सपना देखते थे. लेकिन जब भी वो अपने दोस्तों से इसके बारे में बताते थे तो वो इसका मजाक उड़ाते थे. लेकिन रिटारमेंट के बाद उनका ये सपना पूरा हो गया.

हेलिकॉप्टर में बैठकर मनाया रिटायरमेंट का जश्न
हेलिकॉप्टर में बैठकर मनाया रिटायरमेंट का जश्न


चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी थे कूड़ेराम

1979 में कूडेराम को हरियाणा शिक्षा विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की मिली थी नौकरी
1979 में कूडेराम को हरियाणा शिक्षा विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की मिली थी नौकरी


सदपुरा गांव के रहने वाले कूड़े राम का कहना है कि हरियाणा शिक्षा विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की नौकरी करते थे और तब से वह इसी स्कूल में काम करते थे. कूड़े राम ने कहा कि उनकी इच्छा थी कि जब वो सरकारी नौकरी से रिटायर हो, तब वह अपने घर हेलिकॉप्टर में जाए. मंगलवार को जब वह स्कूल से रिटायर हुए, तो चॉपर में बैठकर अपने घर पहुंचे. इस दौरान उन्होंने हवा में उड़कर गांव के चक्कर भी लगाए.
Loading...

साढ़े 3 लाख रुपए में बुक किया हेलिकॉप्टर  

कर्मचारी ने साढ़े 3 लाख खर्चा कर बुक किया था हेलिकॉप्टर
कर्मचारी ने साढ़े 3 लाख खर्चा कर बुक किया था हेलिकॉप्टर


1979 में कूडेराम को हरियाणा शिक्षा विभाग में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की नौकरी मिली.  कूड़ेराम के परिवार में पत्नी रामवती के अलावा 3 बेटे और एक बेटी हैं और चारों संतान शादीशुदा हैं. अपनी इच्छा को पूरा करने के लिए उन्होंने नीमका से सदपुरा गांव तक के लिए साढ़े 3 लाख रुपए में हेलिकॉप्टर बुक किया. दोनों गांवों की दूरी महज 2 किलोमीटर है. वहीं उस जश्न में शामिल परिवार के लोगों ने भी बारी- बारी से हेलीकॉप्टर की सवारी की.

यह भी पढ़ें- करगिल युद्ध में शहीद हुए सबसे कम उम्र के इस जवान ने जीती थी टाइगर हिल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फरीदाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 1, 2019, 10:08 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...