निकिता हत्याकांड: 'मिर्जापुर' देखकर तौसीफ ने किया था मर्डर, SIT के सामने एकतरफा प्यार का खुलासा

निकिता हत्याकांड सुर्ख़ियों में आने के बाद जब यह पता चलता है कि वर्ष 2018 में भी तौसीफ़ ने उसका अपहरण किया था.
निकिता हत्याकांड सुर्ख़ियों में आने के बाद जब यह पता चलता है कि वर्ष 2018 में भी तौसीफ़ ने उसका अपहरण किया था.

आरोप है कि तौसीफ (Tausif) भी उस दिन निकिता को शादी के लिए ले जाना चाहता था. लेकिन निकिता (Nikita) के इंकार करने के बाद वो उसे जबरन कार में बैठाकर ले जाने की कोशिश कर रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 2, 2020, 6:14 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बल्लभगढ़ (Ballabgarh) के निकिता हत्याकांड (Ballabhgarh Nikita Murder) के आरोपी का वेब सीरीज 'मिर्जापुर' (Mirzapur) के साथ भी कनेक्शन है. यह खुलासा खुद आरोपी तौसीफ  (Tausif) ने स्पेशल इंवेस्टीगेशन टीम (SIT) के सामने किया है. तौसीफ के खुलासे से साफ हुआ है कि निकिता का मर्डर (Murder) भी ठीक उसी तरह से किया गया है जैसे मिर्जापुर में मुन्ना भैया (दिव्येंदु शर्मा) भी एकतरफा प्यार में एक लड़की स्वीटी (श्रेया पिलगांवकर) को गोली मार देता है, जिसके बाद उस लड़की की मौत हो जाती है.

जब कोई बेटी की हत्या कर देगा तो कोई क्यों पैदा करे लड़की
निकिता हत्याकांड से जुड़े दो आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेजा जा चुका है. लेकिन घर वालों का रो-रोकर बुरा हाल है. सबसे ज़्यादा खराब हालत निकिता की मां की है. मां ने सरकार से मांग की है कि जैसे उनकी बेटी को मारा गया है, इसी तरह से पुलिस आरोपियों का भी एनकाउंटर करे. वहीं उनका कहना है कि अगर इसी तरह 20 साल तक बेटियो को पालने के बाद कोई उनकी कोई हत्या कर देगा तो फिर कोई बेटी क्यों पैदा करना चाहेगा. लोग बेटी पैदा होते ही मार देंगे. मृतका की मां बार-बार आरोपियों के एनकाउंटर की मांग कर रही है. दिल्ली से सटे फरीदाबाद के पास बल्लभगढ़ में कॉलेज छात्रा की दिनदहाड़े हुई हत्या को लेकर हंगामा मचा हुआ है.

यह भी पढ़ें- खुशखबरी: 5 नियमों का पालन कर शादी समारोह में बुला सकते हैं अनलिमिटेड मेहमान, दिल्ली सरकार ने दी राहत
करणी सेना का ऐलान, लव जेहाद रोकने को कानून हाथ में लेंगे


करणी सेना के अध्यक्ष सूरज पाल अम्मू आज हरियाणा में मृतका निकिता के घर पहुंचे. निकिता के परिवार वालों से मुलाकात की. अम्मू ने कहा कि हम हरियाणा सरकार से माँग करते है कि निकिता के परिवार को जल्द न्याय दिलाये. 2018 में परिवार पर दबाव डालकर मामला शांत करवा दिया गया था. एसआईटी  2018 से इसकी जाँच कर रही है. फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में जल्द न्याय मिले.

वहीं उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि लव जेहाद रोकने के लिये अगर हमें क़ानून भी हाथ में लेना पड़ा तो जरूर लेंगे. हम खून के बदले खून की माँग करते हैं. फ़रीदाबाद चौक पर आरोपी को गोली मारी जाय. आरोपी का परिवार कांग्रेस पार्टी से जुड़ा हुआ है. अब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी चुप क्यों हैं. आरोपी कितना भी रसूखदार हो हम उसे छोड़ेंगे नहीं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज