Home /News /haryana /

बच्चे के पेट से निकले 29 मैग्नेट के टुकड़े, घड़ी का सेल और एक सिक्‍का

बच्चे के पेट से निकले 29 मैग्नेट के टुकड़े, घड़ी का सेल और एक सिक्‍का

यहां डॉक्टर्स ने एक 3 साल के बच्चे के पेट से 29 मैग्नेट के टुकड़े, एक घड़ी का सेल और 1 पांच पैसे का सिक्का निकाला है. बच्चे को पेट दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

यहां डॉक्टर्स ने एक 3 साल के बच्चे के पेट से 29 मैग्नेट के टुकड़े, एक घड़ी का सेल और 1 पांच पैसे का सिक्का निकाला है. बच्चे को पेट दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

यहां डॉक्टर्स ने एक 3 साल के बच्चे के पेट से 29 मैग्नेट के टुकड़े, एक घड़ी का सेल और 1 पांच पैसे का सिक्का निकाला है. बच्चे को पेट दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

    यहां डॉक्टर्स ने एक 3 साल के बच्चे के पेट से 29 मैग्नेट के टुकड़े, एक घड़ी का सेल और 1 पांच पैसे का सिक्का निकाला है. बच्चे को पेट दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

    वहीं, बच्चे प्रिंस के ऑपरेशन के बाद डॉक्टर्स से मंगलवार को मीडिया ने बात की. हुआ यूं कि 3 साल का मासूम प्रिंस मथुरा का रहने वाला है. डॉक्टर्स के मुताबिक, प्रिंस के परिजन उसे पेट दर्द की शिकायत पर अस्पताल लेकर आए. जब बच्चे का एक्सरे किया गया तो उसके पेट में कुछ मेटल नज़र आया. इसके बाद उसका ऑपरेशन किया गया.

    डॉक्टर के मुताबिक, वे उस वक़्त हैरान रह गए जब छोटे से बच्चे के पेट में इतने मैग्नेट के टुकड़े देखे. मैग्नेट के टुकड़े पेट के अंदर आपस में चिपक गए थे. जिसके बाद उसका ऑपरेशन किया गया. बच्चे के पेट से 29 मैग्नेट के टुकड़े, एक घडी का सेल और एक पांच पैसे का सिक्का निकला है.

    परिजनों के मुताबिक, बच्चा घर में बिखरे मैग्नेट के टुकड़े खाता रहा और वो उसके पेट में जाकर चिपक गए. उधर, बच्चे के पिता उसकी तबीयत ठीक होने के बाद बेहद खुश हैं. उनके मुताबिक, वे ज्वैलरी बॉक्स बनाने का काम करते हैं और ये मैग्नेट उसी डिब्बे में लगते हैं. अब वे अपनी गलती मानते हुए लोगों से अपील कर रहे हैं कि बच्चों के खेलते समय उनके आसपास ध्‍यान रखें.

    Tags: फरीदाबाद

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर