किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी का अजीबोगरीब बयान, बोले- कोरोना BJP का एजेंट

किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने सत्ताधारी नेताओं पर जमकर हमला बोला है.

किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने सत्ताधारी नेताओं पर जमकर हमला बोला है.

भिवानी (Bhiwani) में किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने किसान आंदोलन की पर बोलते हुए सत्ताधारी नेताओं को बेशर्म और चोर तक कह डाला. उन्होंने कहा कि लोगों को ऐसे नेताओं (Politician) को गांव में भी घुसने देना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 11, 2021, 9:35 PM IST
  • Share this:
भिवानी. भिवानी (Bhiwani) में किसान नेता गुरनाम चढूनी ने सत्ताधारी नेताओं पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने किसान आंदोलन की पर बोलते हुए सत्ताधारी नेताओं को बेशर्म और चोर तक कह डाला. उन्होंने कहा कि आज देश में बोलने तक की आजादी नहीं है. उन्होंने यहां तक की कोरोना (Corona) को बीजेपी (BJP) का एजेंट भी बता दिया.

गुरनाम सिंह चढूनी भारतीय किसान यूनियन के जिला प्रधान राकेश आर्य का हाल चाल जानने भिवानी में निमड़ीवाली गांव पहुंचे थे. राकेश आर्य अपने खेतों में बिना मुआवडा दिये पावर ग्रिड की बड़ी बड़ी लाइन डालने का विरोध करने पर पुलिस द्वारा पिटे थे. गुरनाम चढूनी ने इस दौरान पुलिस कार्यवाई की निंदा की और किसान आंदोलन पर अपनी राय रखी.

इस दौरान गुरनाम चढूनी ने भाजपा और जजपा नेताओं के गांवों में ना घुसने देने के अलोकतांत्रिक तरीके के सवाल पर बिगड़े बोल नजर आए. उन्होने नेताओं को बेशर्म, चोर और देश को बेचने वाला तक कह डाला. चढूनी ने कहा कि ये नेता जनता द्वारा चुने गए हैं, लेकिन अपने आप को देश का ठेकेदार मानकर देश को बेचने का काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि ऐसे चोरों को गांवों में कैसे घुसने देंं.

हरियाणा : मंडियों में दो दिनों से चल रही आढ़तियों की हड़ताल खत्म, अनाज की खरीद शुरू
उन्होंने कहा कि ये नेता इतने बेशर्म हैं कि गांवों से भगाने के बाद लोगों को आपस में लड़ाने के लिए फिर वापस आ जाते हैं. चढूनी ने कहा कि आज देश में किसी को बोलने तक की आजादी नहीं है. फिर वो चाहे मीडिया हो, विपक्ष का नेता हो या कोई सरकारी कर्मचारी, उन्होंने कहा कि हमारा आंदोलन देश और अपनी आजीविका बचाने का आंदोलन है. यह जीत होने तक जारी रहेगा.

चढूनी ने जनता को परेशानी के सवाल पर कहा कि जल्द इसका रास्ता निकालेंगे, जिससे जनता को नहीं, केवल सरकार को परेशानी हो. वहीं हरियाणा के गृह मंत्री  अनिल विज द्वारा कृषि मंत्री को लिखी चिठ्ठी पर आभार जताते हुये उन्होंने कहा कि वो सरकार से बात करके समाधान निकाल सकते हैं. उन्होंने कहा कि फिलहाल किसानों की समस्या का हल किसी के पास ही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज