हरियाणा में पराली न जलाने वाले किसानों को गांव के सरपंच करा रहे मुफ्त हवाई यात्रा
Charkhi-Dadri News in Hindi

हरियाणा में पराली न जलाने वाले किसानों को गांव के सरपंच करा रहे मुफ्त हवाई यात्रा
चरखी दादरी के किसान आज जम्मू में वैष्णो देवी के दर्शन करने के बाद लौट रहे हैं. (Photo News18)

सोमेश वर्ष 2018 से किसानों को पराली न जलाने के लिए प्रेरित करते आ रहे हैं. जो किसान उनकी बात को समझ जाते हैं और उसे मान लेते हैं सोमेश उन्हें प्रोत्साहित करते हैं. सोमेश का किसानों से आग्रह होता है कि वो पराली को खेतों में जलाने के बजाए उसे काटकर गौशालाओं में पशु चारे के रूप में दे दें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2019, 11:19 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के वातावरण में बढ़ते प्रदूषण (Pollution) को लेकर सिर्फ सरकारें (Government) और कोर्ट (Court) ही परेशान नहीं है. हरियाणा (Haryana) के एक गांव के सरपंच भी प्रदूषण और पर्यावरण के लिए बेहद गंभीर हैं. इसके तहत वो अपने गांव में दो साल से किसानों को पराली न जलाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं. इसके बदले में वो किसानों को हवाई यात्रा कराते हैं और तीर्थ स्थलों पर ले जाते हैं. इस साल भी वो किसानों को वैष्णो देवी लेकर गए हैं.

चरखी दादरी में घिकाड़ा गांव के हैं सरपंच सोमेश

हरियाणा के चरखी दादरी जिले के घिकाड़ा गांव के सरपंच सोमेश पर्यावरण संरक्षण के लिए अपने इलाके के लोगों को जागरूक करने के मुहिम में जुटे हैं. सोमेश वर्ष 2018 से किसानों को पराली न जलाने के लिए प्रेरित करते आ रहे हैं. जो किसान उनकी बात को समझ जाते हैं और उसे मान लेते हैं सोमेश उन्हें प्रोत्साहित करते हैं. सोमेश का किसानों से आग्रह होता है कि वो पराली को खेतों में जलाने के बजाए उसे काटकर गौशालाओं में पशु चारे के रूप में दे दें.



पहले गुजरात तो अब जम्मू-कश्मीर की हवाई यात्रा
पिछले वर्ष सरपंच सोमेश पराली न जलाने वाले 25 किसानों को गुजरात की यात्रा करवा चुके हैं. हवाई जहाज से वो उन्हें गुजरात लेकर गए थे. वहां कई ऐतिहासिक स्थल दिखाने के साथ ही मंदिरों के दर्शन भी कराए थे. सोमेश ने ऐसा ही कुछ इस बार भी किया है. सोमेश के कहने पर इस बार पराली न जलाने वाले किसानों की संख्या 15 है.

बीते 30 अक्टूबर को सोमेश इन सभी किसानों को सबसे पहले हिसार के अग्रोहा धाम ले गए. वहां दर्शन के बाद उन्होंने फिरोजपुर जिले में हुसैनीवाला स्थित भारत-पाकिस्तान सीमा पर भारतीय सीमा सुरक्षा बल के जवानों के द्वारा की जाने वाली परेड दिखाई. इसकी अगली सुबह वो सभी को भटिंडा से हवाई यात्रा करवाते हुए जम्मू ले गए जहां उन्होंने उनकी राज्यपाल से मुलाकात कराई और माता वैष्णो देवी के दर्शन करवाए. इसके बाद मंगलवार को वो इन किसानों को दिल्ली के रास्ते वापस घिकाड़ा गांव ले जाएंगे.

ये भी पढ़ें :

भोपाल में 3 दिन के लिए इकट्ठा हो रहे हैं देशभर के 25 लाख से अधिक मुस्लिम, जानें वजह...

निर्भया केस: दोषियों ने राष्ट्रपति को नहीं भेजी दया याचिका, जल्द शुरू होगी फांसी की तैयारी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज