लाइव टीवी

पराली जलाने की जांच करने पहुंचे थे कृषि अधिकारी, घेराव करने वाले किसानों पर FIR

Jaspal Singh | News18 Haryana
Updated: November 2, 2019, 6:21 PM IST
पराली जलाने की जांच करने पहुंचे थे कृषि अधिकारी, घेराव करने वाले किसानों पर FIR
पराली जलाने की जांच करने पहुंचे किसानों ने किया था कृषि अधिकारियों का घेराव

फतेहाबाद के ढाणी चेतनपुरिया गांव में पराली में आग (burning of stubble) जलाने की जांच करने पहुंचे कृषि अधिकारियों (agricultural officials) का शुक्रवार को किसानों ने घेराव किया था. शनिवार को इस मामले में पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है.

  • Share this:
फतेहाबाद.  पराली में आग (burning of stubble) लगने की सूचना पर गांव में पहुंचे अधिकारियों का विरोध करना ग्रामीणों को भारी पड़ गया है. कृषि विभाग के अधिकारियों की शिकायत पर शहर पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज (case filed against farmers) किया है. फिलहाल इस मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. शुक्रवार की शाम को अधिकारियों को सूचना मिली थी कि ढाणी चेतनपुरिया गांव में पराली में आग लगाई गई है, जिसके बाद कृषि विभाग के एडीओ मौके पर पहुंच गए थे. आरोप है कि मौके पर मौजूद ग्रामीणों ने अधिकारियों का वहां पहुंचने पर विरोध किया और उनके साथ बहस कर कार्य में बाधा डाली. इस मामले में विभाग के एडीओ रॉबर्ट ने पुलिस में शिकायत देकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए लिखा. शनिवार को इस मामले में शहर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अज्ञात लोगों के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने का मामला दर्ज कर लिया है. मामले में अभी किसी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है और पुलिस मामले की जांच कर रही है.



किसानों को समझा-बुझाकर कृषि अधिकारियों को छुड़ाया था पुलिस ने 

शहर के नजदीक ढाणी चेतनपुर में धान की पराली को आग लगाई जा रही है इस आशय की सूचना शुक्रवार को कृषि विभाग के अधिकारियों को मिली थी तो वे मौके पर पहुंच गए थे. उन्हें देखकर किसानों का पारा चढ़ गया था. गुस्साए किसानों ने विभाग के अधिकारियों का घेराव कर लिया. किसानों के गुस्से को देखते हुए विभाग के अधिकारियों ने मामले की सूचना पुलिस को दी थी. सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंच गई और ग्रामीणों को समझा बुझाकर अधिकारियों को छुड़वाया था.

शहर थाना प्रभारी यादविंद्र सिंह ने किसानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने की पुष्टि की


क्यों गुस्से में हैं किसान 

किसान इस बात से गुस्से में हैं कि एक तो उनकी पराली प्रबन्धन के लिए सरकार कोई विकल्प नहीं दे रही है. यहां तक कि किसानों की पराली को खरीदने का भी सरकार कोई इंतजाम नहीं कर रही है. किसानों का कहना है कि कि वे इतनी पराली का क्या करेंगे ? इससे उनको परेशानी हो रही है. अगर सरकार पराली प्रबन्ध की और कदम उठाए तो वह पराली जलाना बन्द कर देंगे.
Loading...

ये भी पढ़ें- वोट प्रतिशत बढ़ा फिर भी क्यों हारे मंत्रीजी, सीएम खट्टर को सबने सुनाया दुखड़ा

कृषि विभाग के लिए आफत बनी पराली, किसान कर रहे घेराव

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फतेहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 2, 2019, 6:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...