कृषि बिल: जाम के दौरान एम्बुलेंस देखकर हटे किसान, दिया रास्ता

किसानों ने एंबुलेंस को दिया रास्ता
किसानों ने एंबुलेंस को दिया रास्ता

कृषि बिल (Agriculture Bill) के विरोध में किसानों (Farmers) ने आज भारत बंद का आह्नान किया हुआ है.

  • Share this:
फतेहाबाद. भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर कृषि संबधी तीन अध्यादेश के विरोध में आज भारत बंद के दौरान टोहाना विधानसभा के गांव कन्हडी में किसानों ने हिसार टोहाना रोड पर जाम लगा दिया. इस दौरान मरीज को हिसार मेडिकल ले जा रही एंबुलेंस (Ambulance) जाम के समय वहां पहुंची तो किसानों (Farmers) ने बैरीगेट हटाकर सहानुभूति दिखाते हुए उसे जाने दिया.

बता दें कि रोड जाम की वजह से लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. लोड लेकर दूरदराज के क्षेत्र में जाने वाले ट्रक ड्राइवरों को कच्चे रास्तों से होकर निकलना पड़ रहा है. वहीं प्रशासन की ओर से शहर के बाहर नाका लगाकर वाहनों को इधर-उधर के रास्तों से निकालने का भी प्रयास किया जा रहा है. लेकिन जगह-जगह किसानों द्वारा रोड जाम किए जाने के कारण आमजन को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. ऐसे में स्थानीय प्रशासन भी किसानों के विरोध के आगे असहाय नजर आ रहा है.

अंबाला में आर्मी का काफिला फंसा



वहीं अंबाला के राष्ट्रीय राज मार्ग नंबर एक पर भी आज किसान सड़कों पर आ गए और अंबाला अमृतसर नेशन हाइवे नंबर एक को अवरुद्ध कर दिया,  इस दौरान भारतीय सेना का एक काफिला किसानों द्वारा लगाए जाम में फंस गया।. अंबाला पुलिस के काफी समझाने के बाद एक घंटे की मशक्कत के बाद आर्मी के काफिले को रांग साइड से निकाल दिया गया.
किसान अपनी मांगों पर अड़े

धरने पर बैठे किसान, कृषि अध्यादेश वापिस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं.  किसानों की मानें तो , यह अभी शुरुआत है, आगे आगे यह आंदोलन और बड़ा रूप ले लेगा. किसानों का कहना है की वह मर जायेंगे लेकिन वह इस अधिदेश को स्वीकार नहीं करेंगे और तब तक इस बिल का विरोध करते रहेंगे जब तक इसे वापस नहीं लिया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज