लाइव टीवी

घायल नाग की मरहम पट्टी के बाद सुरक्षित छोड़े गए नाग-नागिन

Paramjeet Singh | News18 Haryana
Updated: December 1, 2019, 1:53 PM IST
घायल नाग की मरहम पट्टी के बाद सुरक्षित छोड़े गए नाग-नागिन
फतेहाबाद - घायल नाग का उपचार करने के बाद डॉ. गोपी ने दोनों नाग और नागिन को सुरक्षित स्थान पर छोड़ दिया.

नागिन एक दफा डॉ. गोपी पर झपट पड़ी, लेकिन जैसे ही उसने अपने साथी को सुरक्षित पाया वह शांत भी हो गई. उपचार करने के बाद वन्यजीव रक्षक डॉ. गोपी ने दोनों नाग और नागिन को सुरक्षित स्थान पर छोड़ दिया.

  • Share this:
फतेहाबाद. टोहाना के न्यू प्रभाकर कॉलोनी में सड़क निर्माण कार्य (Road Construction Works) के दौरान खुदाई के समय नाग व नागिन (Nag-Nagin) का जोड़ा निकल आया. सड़क खुदाई के दौरान चोट लगने से नाग घायल (Injure Cobra) हो गया था. नागिन अपने साथी नाग को छोड़कर जाने का नाम ही नहीं ले रही थी. नाग को घायल देखकर लोग घबरा भी गए. ऐसे में तुरंत ही वन्यजीव रक्षक (Wildlife guard) डॉ. गोपी को बुलाया गया. मौके पर पहुंचकर उन्होंने घायल नाग की मरहम पट्टी (Injured Cobra Treatment) की.

मरहम पट्टी के दौरान पास ही मौजूद नागिन एक दफा डॉ गोपी पर झपट पड़ी, लेकिन जैसे ही उसने अपने साथी को सुरक्षित पाया वह शांत भी हो गई. उपचार करने के बाद वन्यजीव रक्षक डॉ. गोपी ने दोनों नाग और नागिन को सुरक्षित स्थान पर छोड़ दिया.

वन्यजीव रक्षक डॉ. गोपी ने दोनों नाग और नागिन को सुरक्षित स्थान पर छोड़ दिया.


डॉ. गोपी ने बताया कि नाग को गंभीर चोट लगी थी. साथ ही उन्होंने बताया कि दोनों नाग और नागिन दमन प्रजाति के सांप हैं. बता दें कि डॉ गोपी अब तक सैकड़ों जानवरों को बचाकर उन्हें सुरक्षित स्थान पर छोड़ चुके हैं. डॉ. गोपी एक ऐसे इंसान हैं जो नि:स्वार्थ भाव से सेवा करते हैं और पर्यावरण के संरक्षण के लिए सदैव तत्पर रहते हैं.

ये भी पढ़ें - कश्मीरी ड्राइवर को पाकिस्तानी कहकर पीटने वाला ASI गिरफ्तार

ये भी पढ़ें - हनीप्रीत ने चिट्ठी लिख वकील एपी सिंह के दावों को किया खारिज, कही ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फतेहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 1, 2019, 1:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...