• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • ओपी चौटाला के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग, BJP नेता ने DGP को लिखा पत्र

ओपी चौटाला के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग, BJP नेता ने DGP को लिखा पत्र

ओपी चौटाला

ओपी चौटाला

बीजेपी नेता और वकील प्रवीण जोड़ा का कहना है कि मुख्यमंत्री खट्टर के खिलाफ बयानबाजी कर ओम प्रकाश चौटाला उनका अपमान कर रहे हैं.

  • Share this:
इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) सुप्रीमो ओम प्रकाश चौटाला द्वारा अपने भाषणों में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के प्रति की आपत्तिजनक टिप्पणी का मामला थमता नज़र नहीं आ रहा है. भाजपा के वरिष्ठ नेता और वकील परवीन जोड़ा ने डीजीपी को एक पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने ओम प्रकाश चौटाला के खिलाफ मामला दर्ज करने और दिल्ली पुलिस से उनकी पेरोल रद्द किये जाने की मांग की है.

शिकायत में लिखा ओपी चौटाला कर रहे सीएम का अपमान

एडवोकेट जोड़ा का कहना है कि इस प्रकार की बयानबाजी कर जहां एक ओर ओपी चौटाला मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का अपमान कर रहे हैं. वहीं बिरादरी विशेष का भी अपमान किया जा रहा है जो कि आपसी भाईचारे को खराब करने वाला हो सकता है.

डीजेपी से की ये मांग

उन्होंने चौटाला बीके खिलाफ आईपीसी की धारा 504, 505 सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज करने की डीजीपी से मांग की है. बता दें कि पेरोल पर रिहा हुए प्रदेश के पूर्व सीएम और इनेलो नेता ने अलग-अलग जगहों पर अपने भाषणों में कुछ अमर्यादित शब्दों का प्रयोग किया था, जिसकी हर तरफ निंदा की गई.

चौटाला ने दिया था ये बयान

ओम प्रकाश चौटाला सिरसा के डबवाली रोड स्थित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि हरियाणा में नालायक पशु होते हैं, जब वो नकारा हो जाते हैं, बेकार हो जाते हैं तो उन्हें खट्टर कहते हैं. उन्होंने कहा था कि हरियाणा में ये नकारा पता नहीं कहां से आ गया. कभी सोचा भी नहीं था, इसका भी दांव लगेगा। खैर लग गया तो यह प्रदेश का दुर्भाग्य था. प्रदेश का बहुत नुकसान हुआ है.

ये भी पढ़ें-

रोहतक में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, 4 गिरफ्तार

दुकान में शराब पीने से मना किया तो लाठी से पीट-पीट कर मार डाला

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज