फ़तेहाबाद: विधायक देवेंद्र बबली को आया गुस्सा, बिजली निगम के अधिकारियों को लगाई जमकर लताड़
Fatehabad News in Hindi

फ़तेहाबाद: विधायक देवेंद्र बबली को आया गुस्सा, बिजली निगम के अधिकारियों को लगाई जमकर लताड़
विधायक देवेंद्र बबली को आया गुस्सा

निगम के अधिकारी और कर्मचरियों पर आरोप (Allegations), किसान (Farmer) के घर जाकर महिलाओं के सामने ही उसके साथ अभद्र व्यवहार किया और धमकाया.

  • Share this:
फ़तेहाबाद. जिले के टोहाना से जेजेपी पार्टी से विधायक देवेंद्र बबली (Devender Babli) एक बार फिर आक्रमक मुद्रा में है. इलाके के गांव तलवाड़ा में बुधवार रात हुए एक घटनाक्रम के बाद बिजली निगम एक बार फिर से बबली के निशाने पर आ गया. विधायक ने निगम को सबसे भ्रष्ट (Corrupt) विभाग बताते हुए कह दिया कि निगम के कुछ जेई, एसडीओ और कर्मचारियों के मुंह पर खून लगा हुआ है. ये लोग पहले खुद कुंड़ी लगवाते हैं फिर उसे पकड़वा कर पैसे ऐंठते हैं, नया ट्यूबवेल कनेक्शन जारी करने के नाम लाखों रुपए मांगे जाते हैं, लोड कम ज्यादा दिखा कर लोगों को बेवजह परेशान करते हैं और फिर उनसे पैसे ऐंठते हैं.

यहां तक कि उन्होंने बिना किसी का नाम लिए टोहाना के नेता को चोर डाकू बताते हुए कह दिया कि वे पूरे टोहाना को लूट के खा गए. ऐसा नहीं है कि बबली आक्रमक मुद्रा में पहली बार आए थे. इससे पहले भी फतेहाबाद में कष्ट निवाारण समिति की बैठक के दौरान बिजली मंत्री की मौजूदगी में कई विभागों पर गंभीर आरोप लगा चुके हैं.

भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और टोहाना से पूर्व विधायक रहे. दरअसल इलाके के गांव तलवाड़ा में बिजली निगम के कर्मचारियों की कार्यशैली से नाराज ग्रामीणों में रोष फैल गया था जिसके बाद सूचना मिलने पर देवेंद्र बबली मौके पर पहुंचे थे और वहीं उन्होंने निगम के अधिकारियों की जमकर क्लास लगाई और नसीहत भी दी कि जो टोहाना में पहले होता आया है, अब वहां ऐसा नहीं होने देंगे.



किसान ने लगाया ये आरोप
दरअसल गांव के किसान के खेतों में बिजली की मोटर को लेकर निगम के अधिकारियों ने नियमों का हवाला दिया तो किसान का कहना था उसने नियमों के तहत ही मोटर लगाई हुई है. आरोप है कि निगम के अधिकारी और कर्मचरियों ने किसान के घर जाकर महिलाओं के सामने ही उसके साथ अभद्र व्यवहार किया और धमकाया. पूरी जानकारी हासिल करने के बाद विधायक का गुस्सा बढ़ गया और उन्होंने मौके पर ही निगम के अधिकारियों को फोन जमकर लताड़ लगाई और यहां तक कह दिया कि निगम में भ्रष्टाचारियों की कमी नहीं है.

अधिकारियों ने किया आश्वस्त

मौके पर पहुंचे निगम के अधिकारियों ने विधायक को आश्वास्त किया कि किसी के साथ किसी प्रकार से गलत नहीं होगा. वह स्वयं पूरे इलाके में स्थिति का आकलन करेंगे और उसी आधार पर ट्यूबवेल मोटर्स का लोड निर्धारित किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज