किसानों से बोले दुष्यंत चौटाला, किसने कहा धान बिजाई पर रोक है, खेतों में जाकर तैयारी करो
Fatehabad News in Hindi

किसानों से बोले दुष्यंत चौटाला, किसने कहा धान बिजाई पर रोक है, खेतों में जाकर तैयारी करो
दुष्यंत चौटाला चौटाला पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल के पड़पोते हैं और उनकी पार्टी जननायक जनता पार्टी हरियाणा सरकार में एक घटक दल है.

किसानों (Farmers) को बीच रास्ते रोक कर बातचीत के दौरान डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने कहा है कि, 'किसने कहा है की धान बिजाई पर रोक है?, केवल पंचायत की जमीन पर धान बिजाई के लिए रोक लगाई गई है, किसान अपने खेत में जाकर बिजाई की तैयारी करें'.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
फतेहाबाद. गिरते भूजल को रोकने के लिए हरियाणा सरकार (Haryana Goernment) द्वारा प्रदेश में धान बिजाई का रकबा 50% से कम करने के लिए लागू की गई 'मेरा पानी मेरी विरासत योजना' पर हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) का चौंकाने वाला बयान सामने आया है. फतेहाबाद में लागू की गई 'मेरा पानी मेरी विरासत योजना' के विरोध में आज ट्रैक्टर लेकर प्रदर्शन करने उतरे 52  गांव के किसानों को बीच रास्ते रोक कर बातचीत के दौरान डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि, 'किसने कहा है की धान बिजाई पर रोक है?, केवल पंचायत की जमीन पर धान बिजाई के लिए रोक लगाई गई है, किसान अपने खेत में जाकर बिजाई की तैयारी करें'.

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने प्रदर्शनकारी किसानों से यह भी कहा कि आप लोग कांग्रेसियों की बात सुनकर उनके पीछे प्रदर्शन करने चले हैं, मैं बोल रहा हूं कि धान बिजाई पर किसानों के लिए कोई रोक नहीं है. दुष्यंत चौटाला के इस बयान के बाद सवाल खड़ा हो रहा है कि आखिर सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन के तहत कृषि विभाग की ओर से किसानों को कहा जा रहा है कि किसान पहले के मुताबिक अब 50% धान की बिजाई पर रोक लगा दें.

किसानों को हाल ही में किया गया था जागरुक



हाल ही में योजना को लेकर जब किसानों का विरोध शुरू हुआ तो फतेहाबाद के कृषि उप निदेशक राजेश सिहाग ने मीडिया को दिए गए अपने बयान में कहा था कि सरकार की ओर से गाइडलाइन है कि किसानों को धान बिजाई कम करने के लिए जागरूक किया जाए. योजना के तहत किसानों को धान का रकबा 50% से कम करने के लिए जागरूक करते हुए वैकल्पिक फसलों की बिजाई के लिए प्रेरित किया जाए.



दुष्यंत के इस बयान के बाद दुविधा में किसान

इतना ही नहीं सरकार की धान बिजाई को कम करने की योजना के तहत किसानों को 7000 सब्सिडी के रूप में भी दिए जाने का प्रावधान किया गया है. वहीं दूसरी तरफ सरकार के इस योजना के विपरीत जाकर धान बिजाई करने वाले किसान की फसल ना खरीदने और 7000 सब्सिडी नहीं देने की कार्रवाई का प्रावधान भी है. अब सवाल यह है कि क्या अधिकारी झूठ बोल रहे हैं, सरकार की योजना ऐसी है या नहीं, या फिर डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला पूरा सच बोल रहे हैं या किसानों को गुमराह करने की कोशिश में लगे हैं. ये सब खुद किसान भी नहीं समझ पा रहा.

ये भी पढ़ें-

लॉकडाउन में क्रिकेट खेलने हरियाणा पहुंचे दिल्ली BJP प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी

चंडीगढ़ में कोरोना से चौथी मौत, 3 दिन की बच्ची ने तोड़ा दम
First published: May 26, 2020, 10:56 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading