हरियाणा: किसान के बेटे ने रचा इतिहास, दुनिया के टॉप साइंटिस्ट लिस्ट में बनाई जगह

किसान के बेटे ने हरियाणा का नाम किया रोशन
किसान के बेटे ने हरियाणा का नाम किया रोशन

कॉलेज कैडर में यह उपलब्धि प्राप्त करने वाले प्रोफ़ेसर बलजीत सिंह (Baljeet Singh) समूचे उत्तरी भारत मे एकमात्र साइंटिस्ट हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 4:18 PM IST
  • Share this:
फतेहाबाद. गांव समैन के साइंटिस्ट प्रोफेसर बलजीत सिंह को दुनिया के टॉप साइंटिस्टों (Top Scientists) में अपनी जगह बनाई है. बलजीत सिंह (Baljeet Singh) अमेरिका के स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा बनाई गई टॉप साइंटिस्टों में जगह मिली है. यह लिस्ट प्लॉस बायोलॉजी इंटरवेशन जनरल में प्रकाशित हुई है. बलजीत सिंह फिलहाल चंडीगढ़ सेक्टर-11 स्तिथ पोस्ट ग्रेजुएट गवर्नमेंट कॉलेज में मैथमेटिक्स के प्रोफेसर है. प्रो.बलजीत गिल का परिवार हिसार रहता है.

बलजीत सिंह हिसार के समैण गांव के मूल निवासी हैं. एक बहुत ही साधारण किसान परिवार से होते हुए भी इन्होंने दुनिया के टॉप साइंटिस्ट की लिस्ट में जगह बनाई है. अभी तक नेशनल और इंटरनेशनल स्तर पर कुल 160 रिसर्च पेपर प्रकाशित हुए हैं, रिकार्ड लिस्ट में 107 रिसर्च पेपर को शामिल किया गया है. 24 साल से टीचिग से जुड़े प्रो. बलजीत का पहला रिसर्च पेपर 1996 में प्रकाशित हुआ था.

उत्तरी भारत मे एकमात्र साइंटिस्ट



कॉलेज कैडर में यह उपलब्धि प्राप्त करने वाले प्रोफ़ेसर बलजीत सिंह समूचे उत्तरी भारत मे एकमात्र साइंटिस्ट हैं. जनरल में प्रकाशित पीयू(पंजाब यूनिवर्सिटी) के 11,पीजीआई (चण्डीगढ़) के 10 साइंटिस्ट शामिल है. इस सूची में दुनिया के लगभग एक लाख 60 हजार व देश के लगभग 7800 साइंटिस्टों को शामिल किया गया है.


प्रो. बलजीत ने कही ये बात

प्रो. बलजीत ने बताया कि प्लॉस बायोलॉजी इंटरनेशनल जनरल में दुनिया के टॉप दो फीसद साइंटिस्ट की लिस्ट में नाम आना उनके लिए ही नहीं कॉलेज के लिए सम्मान की बात है. गौरतलब है कि टॉप साइंटिस्ट में में पीयू के 11 और पीजीआइ के 10 साइंटिस्ट का नाम शामिल है. कॉलेज स्तर पर यह पुरस्कार पाना प्रो. बलजीत के लिए बड़ी उपलब्धि है. इनकी रिसर्च मैकेनिक्स पर है. अभी तक पांच शोधकर्ताओं को पीएचडी करवा चुके हैं. यूजीसी द्वारा भी 2015 से 18 तक रिसर्च प्रोजेक्ट को भी इन्होंने बखूबी पूरा किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज