फतेहबाद में फिर सामने आई फर्जी कंपनी, सरकार को लगाई करोड़ों की चपत

फतेहाबाद के अशोक नगर में एक कमरे में चल रही इस कंपनी मैसर्ज बजरंग एग्रो फूड की खास बात यह रही की कंपनी ने दिल्ली से कॉटन व स्क्रेब की खरीद दिखाई लेकिन जांच में पाया गया की कंपनी ने एक भी ई-वे बिल नहीं काटा हुआ था.

Jaspal Singh | News18 Haryana
Updated: July 9, 2019, 11:53 AM IST
फतेहबाद में फिर सामने आई फर्जी कंपनी, सरकार को लगाई करोड़ों की चपत
फतेहाबाद में फर्जी कंपनी का भंडाफोड़
Jaspal Singh | News18 Haryana
Updated: July 9, 2019, 11:53 AM IST
फतेहाबाद में बोगस बिल काटकर जीएसटी चोरी करने वाली कपंनियों का फर्जीवाड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा है. केवल फतेहाबाद में अब तक ऐसी 16 कंपंनियां सामने आ चुकी हैं जिन्होंने करोड़ों रुपए के बिल काट कर सरकार को करोड़ों का नुकसान पहुंचाया है. अब एक बार फिर से एक ऐसी कंपनी सामने का भंडाफोड़ हुआ, जिसने दिल्ली से कॉटन व स्क्रेब की खरीद दिखकर बिना ई-वे बिल काटे ही 26 करोड़ 56 लाख 11 हजार की बिक्री दिखाई और केंद्र व राज्य सरकार को 1 करोड़ 92 लाख जीएसटी की चपत लगा दी.

फतेहाबाद के अशोक नगर में एक कमरे में चल रही इस कंपनी मैसर्ज बजरंग एग्रो फूड की खास बात यह रही की कंपनी ने दिल्ली से कॉटन व स्क्रेब की खरीद दिखाई लेकिन जांच में पाया गया की कंपनी ने एक भी ई-वे बिल नहीं काटा हुआ था. जो बोगस बिल कंपनी द्वारा काटे गए थे उनमें से कॉटन पर 5 फीसदी तथा एल्यूमिनियम स्क्रैब पर 18 फीसदी के हिसाब से जीएसटी भरना था. लेकिन कंपनी ने कोई टैक्स भरे बिना ही यह सब कर दिया.

जिले में अबतक ऐसी 16 कंपनियां आ चुकी है सामने

बता दें कि जिला में अबतक 16 ऐसी कंपनियां 230 करोड़ के बोगस बिल काटकर विभाग को 16.64 करोड़ की चपत लगा चुकी हैं. जिला कराधान विभाग अब इस कंपनी के खिलाफ जिला पुलिस को शिकायत देकर कार्रवाई करने की तैयारी में है. बता दें कि अबतक सामने आई अधिकतर कंपनियों ने जिन वस्तुओं के बोगस बिल काटें हैं उनमें बजरी, क्रेशर, कॉटन, लोहे व एल्यूमिनियम के स्क्रेब आदि शामिल हैं.

बोगस बिलों के बहाने टैक्स चोरी

इसके अलावा दो चिट फंड कंपनियों वीडीएसटी व मिंट इवोल्यूशन पर भी केस दर्ज हो चुका है. जिन्होंने लोगों से पैसे डबल करने का झांसा देकर सीधे खाते में जमा करवाए थे. विभाग के अधिकारियों के अनुसार  लगातार बोगस बिलों के सहारे टैक्स चोरी करने वाली ऐसी फर्जी कपंनियां जो सेंटर जीएसटी के दायरे में आती हैं उनकी शिकायत विभाग अब वित्त मंत्रालय तथा सैंटर जीएसटी इंटेलिजेंस को भेजेगा तथा मांग करेगा की उक्त कंपनियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करते हुए टैक्स की वसूली की जाए.

ये भी पढ़ें - सपना चौधरी ने बीजेपी ज्वाइन करने के बाद की तारीफ
Loading...

ये भी पढ़ें- सपना चौधरी की जगह लेंगी ये हरियाणवी डांसर, Video Viral

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फतेहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2019, 11:49 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...