खट्टर सरकार के खिलाफ किसानों का हल्ला बोल, धान लगाने की ज़िद पर अड़े
Fatehabad News in Hindi

खट्टर सरकार के खिलाफ किसानों का हल्ला बोल, धान लगाने की ज़िद पर अड़े
सड़कों पर उतरे किसान

मेरा पानी मेरी विरासत योजना के तहत उन इलाकों में धान की फसल (Paddy Crop) की बिजाई न करने अथवा पिछले वर्ष की तुलना में आधे क्षेत्र में करने को कहा गया है. इस योजना के तहत चिह्नित किए गए इलाकों में रतिया ब्लॉक के कई गांव आते हैं.

  • Share this:
फतेहाबाद. तेजी से गिरते भूजल स्तर को बचाने के लिए सरकार द्वारा लाई गई योजना मेरा पानी-मेरी विरासत अब सरकार के लिए सिरदर्द बन गई है. इस योजना के खिलाफ किसान (Farmers) लगातार मुखर हो रहे हैं. जिले में आज किसानों ने बड़े पैमाने पर प्रदर्शन किया और सरकार (Government) के नाम अधिकारियों को एक ज्ञापन सौंपा. हजारों ट्रैक्टर ट्रालियों पर सवार होकर जिले के किसान आज लघु सचिवालय पहुंचे और सरकार के निर्णय के विरुद्ध प्रदर्शन किया.

ट्रैक्टर ट्रालियां की संख्या इतनी थी कि रतिया-फतेहाबाद रोड़ पर लंबा जाम लगा रहा. वहीं किसानों के इस प्रदर्शन में कांग्रेस ने भी हाथ आगे बढ़ा दिया है. कांग्रेस नेताओं ने प्रदेश सरकार की जमकर खिंचाई की और उसे किसान विरोधी बता दिया. कांग्रेस नेता पूर्व विधायक जरनैल सिंह और पूर्व सीपीएस प्रहलाद सिंह गिलाखेड़ा ने सरकार के इस फैसले को तुगलकी फरमान बताते हुए खिंचाई की.

कांग्रेस नेताओं ने कहा कि सरकार किसानों को राहत देने की बजाए उन्हें परेशान कर रही है. सरकार ने जो योजना लागू की है वह योजना कम आदेश अधिक है. उन्होंने कहा कि सरकार धान के स्थान पर वैकल्पिक फसलें लगाने की बात कर रही है, मगर भूल रही है जिन फसलों की बात सरकार कर रही है उनका न तो समर्थन मूल्य सरकार दे रही है और न ही इन फसलों को खरीदने एवं बेचने के लिए कोई मंडी है.



सरकार को दी चेतावनी



किसानों ने सरकार को दो टूक शब्दों चेतावनी देते हुए कहा कि किसान हर हाल में धान की बिजाई करेगें, अगर सरकार ने उन्हें रोकने का प्रयास किया तो किसान आर पार की लड़ाई लड़ेंगे. वहीं ट्रैक्टर ट्रॉलियों पर फतेहाबाद आ रहे किसानों के काफिले को देखकर चंड़ीगढ़ से लौट रहे उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला रुक गए और गाड़ी रुकवा कर किसानों से उनकी समस्या जानी.

दुष्यंत चौटाला ने दिया आश्वासन

दुष्यंत चौटाला ने किसानों को आश्वासन दिया कि वे मुख्यमंत्री से मिलकर किसानों की बात उन तक रखेंगे. बतां दे कि मेरा पानी मेरी विरासत योजना के तहत उन इलाकों में धान की फसल की बिजाई न करने अथवा पिछले वर्ष की तुलना में आधे क्षेत्र में करने को कहा गया है. इस योजना के तहत चिह्नित किए गए इलाकों में रतिया ब्लॉक के कई गांव आते हैं. किसान सरकार की योजना का किसान लगातार विरोध कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें-

लॉकडाउन में क्रिकेट खेलने हरियाणा पहुंचे दिल्ली BJP प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी

चंडीगढ़ में कोरोना से चौथी मौत, 3 दिन की बच्ची ने तोड़ा दम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading