2 मिनट में चलती ट्रेन से निकाल लेते थे 250 लीटर से ज्यादा डीजल, ऐसे हुआ खुलासा

जानकारी के अनुसार रेलवे पुलिस के पास सूचना थी कि ट्रेन से एक दर्जन से अधिक युवक तेल की चोरी करते हैं, जिससे रेलवे को भारी नुकसान हो रहा है.

Jaspal Singh | News18 Haryana
Updated: May 27, 2019, 3:01 PM IST
2 मिनट में चलती ट्रेन से निकाल लेते थे 250 लीटर से ज्यादा डीजल, ऐसे हुआ खुलासा
पुलिस गिरफ्त में आऱोपी
Jaspal Singh | News18 Haryana
Updated: May 27, 2019, 3:01 PM IST
हरियाणा के फतेहाबाद के जाखल की रेलवे पुलिस ने चलती ट्रेन से तेल चोरी करने के मामले में एक आरोपी को काबू किया है. पुलिस ने आरोपी के कब्जे से 260 लीटर चोरी किया तेल बरामद किया है. रेलवे पुलिस आरोपी को रिमांड पर लेकर उससे अन्य साथियों बारे पूछताछ करेगी.

जानकारी के अनुसार रेलवे पुलिस के पास सूचना थी कि ट्रेन से एक दर्जन से अधिक युवक तेल की चोरी करते है, जिससे रेलवे को भारी नुकसान हो रहा है. इंस्पेक्टर अब्दुल लातिफ ने एक टीम का गठन किया तथा सुबह लगभग पांच बजे छापेमारी की. पुलिस ने वहां चोरी कर रहे 15 युवकों में से एक को काबू कर लिया तथा उसके कब्जे से 20 कैन बरामद किए. पुलिस ने जांच शुरू कर दी है.



रेलवे पुलिस इंस्पेक्टर अब्दुल लातिफ ने बताया कि जाखल रेलवे स्टेशन से कुछ दूरी पर ट्रेन से तेल चोरी होने की सूचना मिली थी. उन्होंने बताया कि वहां सुबह चार बजकर बजे उनकी टीम ने छापेमारी की. पुलिस ने देखा कि एक दर्जन से अधिक लोग तेल चोरी कर रहे थे. उन्होंने बताया कि 50 कैन बरामद किए है, जिनमें से 13 कैन में 260 लीटर तेल बरामद हुआ है.

इंस्पेक्टर ने बताया कि एक आरोपी काशी को काबू किया है. आरोपी काशी ने बताया कि अमन की गैंग में वो सभी काम कर रहे थे, अमन ही मुख्य सरगना है. रेलवे अधिकारी ने बताया कि वह अमन इन सभी लड़कों को 300 रूपये मजदूरी के रूप में देता था, उसे भी शीघ्र काबू कर लिया जाएगा. आरोपी युवक को पुलिस रिमांड पर लेकर जांच शुरू कर दी है.

पकडे गए चोर काशी ने बताया कि वह 300 रूपये मजदूरी लेकर यह कार्य करता था. उसने बताया कि रेल गाड़ी दो मिनट स्टेशन पर रूकती थी. पाइप के माध्यम से दो लड़के 20 लीटर के कैन को भरते थे. उसने कबूल किया कि वह नीचे खड़ा होकर कैन को पकडता था और उसके अन्य साथी ऊपर पाइप से तेल निकालता था. काशी ने बताया कि वे तेल चोरी के बाद जमीदारों के घर जाकर 20 रूपये प्रति लीटर के हिसाब से बेचते थे.

ये भी पढ़ें-

12 दिन से गायब बच्चे को परिजनों ने खुद तलाशा तो इस हाल में मिला बच्चा 
Loading...

वोटों की गिनती के बाद इसलिए ईवीएम को 45 दिन रखा जाता है अंधेरें में
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...