हरियाणा: फतेहाबाद में 75 ग्राम चिट्टे के साथ मां-बेटी और बेटा गिरफ्तार

चिट्टे के साथ एक ही परिवार के लोग गिरफ्तार
चिट्टे के साथ एक ही परिवार के लोग गिरफ्तार

Udta Haryana: चारों आरोपियों से नशे की अलग-अलग मात्रा बरामद हुई.

  • Share this:
फतेहाबाद. हरियाणा के फतेहाबाद जिले की डीसी कॉलोनी एरिया में मंगलवार मोहल्ला वासियों की सूचना पर पुलिस टीम ने रेड करके एक घर से महिला को उसके बेटा-बेटी और एक सप्लायर को नशा (चिट्टा) सप्लाई करने के आरोप में गिरफ्तार (Arrest) किया. जानकारी देते हुए सिटी थाना के एसएचओ ने सुरेंद्र कम्बोज ने बताया कि राजविंदर कौर नाम की महिला के बारे में सूचना प्राप्त हुई थी कि वह घर में नशा सप्लाई का कारोबार करती है. इस पर पुलिस टीम ने मौके पर छापेमारी कार्रवाई करते हुए एक नशा सप्लायर को गिरफ्तार किया जो बाहर से नशा लाकर महिला को देता था.

चारों आरोपियों से नशे की अलग-अलग मात्रा बरामद हुई जिसमें आरोपी मां राजविंदर कौर से 8 ग्राम, आरोपी राजविंदर कौर की बेटी हरप्रीत कौर उर्फ सोनू से 20 ग्राम, बेटे राजन से 7 ग्राम और मुख्य सप्लायर चिराग से 40 ग्राम चिट्टा बरामद हुआ. महिला राजविंदर कौर अपने बेटे और बेटी के जरिए नशा बांटने का काम करती थी.

75 ग्राम चिट्टा बरामद



सिटी थाना एसएचओ ने बताया कि अभी तक की जांच में गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ पहले कोई केस दर्ज नहीं पाया गया है और पहली बार ही नशे के मामले में यह लोग पकड़े गए हैं. फिलहाल चारों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है और कोर्ट में पेश कर आगामी कार्रवाई की जाएगी. चारों आरोपियों के कब्जे से कुल 75 ग्राम नशा बरामद हुआ है.
पुलिस आरोपियों से कर रही पूछताछ

पुलिस अब इस बात की पड़ताल कर रही है कि कितने समय से महिला और उसका परिवार नशे का कारोबार कर रहा है और इन लोगों के तार आगे किन लोगों से जुड़े हुए हैं. वहीं मौके पर मोहल्ला वासियों ने बताया कि इस घर में रह रही महिला को बाहर से बाइक पर सवार होकर आने वाले युवक नशा देकर जाते थे और कई लोग यहां से नशा लेकर जाते थे. मोहल्ला वासी जरनैल सिंह ने बताया कि आज सुबह जब बाइक सवार युवक महिला को नशा सप्लाई करने आये तो हमने दोनों युवकों को रंगे हाथ पकड़ा. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई.

पूरे मोहल्ले के लिए बन चुके थे सिरदर्द

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर महिला और उसके घर में मौजूद लोगों से नशा बरामद किया. मोहल्ला वासियों ने आरोप लगाया कि यह महिला पूरे मोहल्ले के लिए सिरदर्द बनी हुई थी और लगातार यहां से नशा सप्लाई किया जा रहा था, जिससे यहां लोगों को परेशानी हो रही थी और यहां के बच्चे भी नशे की लत में पढ़ने की हालात में पहुंच चुके थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज