Home /News /haryana /

हरियाणा की नेहा ने 5 मिनट में लगा डाले 53 पौधे, एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज

हरियाणा की नेहा ने 5 मिनट में लगा डाले 53 पौधे, एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज

नेहा ने बताया कि इससे पहले 5 मिनट में 40 पौधे लगाने का रिकॉर्ड था.

नेहा ने बताया कि इससे पहले 5 मिनट में 40 पौधे लगाने का रिकॉर्ड था.

Asia Book of Records: नेहा ने बताया कि इससे पहले 5 मिनट में 40 पौधे (Plants) लगाने का रिकॉर्ड (Record) था. नेहा और उसके माता-पिता ने बताया कि नेहा का यह काम उन लड़कियों और महिलाओं के लिए प्रेरणा बनेगा जो अपने जीवन कुछ कर दिखाना चाहती हैं. उन्होंने कहा आज लड़कियां किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है, बस जरूरत है उन्हें प्रेरित करने की और उनका साथ देने की

अधिक पढ़ें ...

फतेहाबाद. कहते हैं कुछ कर गुजरने कि हिम्मत हो तो बड़ी से बड़ी समस्याएं राह नहीं रोक सकती. फतेहाबाद की नेहा ने ऐसा ही कुछ कर दिखाया जिससे न केवल उसने अपना और अपनों का रोशन किया बल्कि इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड और एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड (Asia Book of Records) में अपना नाम दर्ज कर लिया. दोनों ही संस्थानों ने नेहा को उसकी इस सफलता के लिए प्रमाण पत्र और मेडल देकर सम्मानित किया है. फतेहाबाद की अंजलि कॉलोनी में रहने वाली नेहा ने बताया कि वो पर्यावरण में लगातार घुलते जहरीले धुंए और प्रदूषण को लेकर चिंतित थी. पर्यावरण (Environment) को बचाने के उद्देश्य से उसने अपना योगदान देते हुए पौधे लगाने की सोची और 5 ही मिनट में 53 पौधे लगा ड़ाले.

5 मिनट में किए गए इस पौधारोपण की उसने बकायदा वीडियो भी बनाया और इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड एवं एशिया बुक ऑफ रिकार्ड को भेजा. नेहा ने बताया कि दस्तावेज भेजने के लिए कुछ दिनों के बाद उसके पास इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड से उसके संदेशा मिला कि उसने 5 मिनट में 53 पौधे लगा कर एक नया रिकार्ड कायम किया है और उसका नाम इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया जा रहा है, तो उसकी खुशी की सीमा नहीं रही.

नेहा ने 5 ही मिनट में 53 पौधे लगा ड़ाले.

नेहा और उसका परिवार अभी इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज होने पर खुशी मना ही रहे थे कि एशिया बुक ऑफ वर्ल्ड ने भी उसका नाम दर्ज कर उसके पास संदेशा भेजा तो उनकी खुशी दोगुनी हो गई. दोनों संस्थानों ने उसके काम को प्रमाणित करते हुए बाकायदा प्रमाण पत्र भेजे हैं साथ ही मेडल भी दिए हैं. नेहा ने बताया कि इससे पहले 5 मिनट में 40 पौधे लगाने का रिकॉर्ड था.

प्रमाण पत्र के साथ ही मेडल भी भेजे हैं.

नेहा और उसके माता-पिता ने बताया कि नेहा का यह काम उन लड़कियों और महिलाओं के लिए प्रेरणा बनेगा जो अपने जीवन कुछ कर दिखाना चाहती हैं. उन्होंने कहा आज लड़कियां किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है, बस जरूरत है उन्हें प्रेरित करने की और उनका साथ देने की. वहीं नेहा ने बताया कि पर्यावरण को बचाना हर इंसान का कर्तव्य बनता है, इसके लिए वो जितना हो सके अपना सहयोग दें.

हर इंसान को अपने जीवन में न केवल पौधे लगाने चाहिए बल्कि उनका ध्यान भी रखना चाहिए. नेहा ने कहा अक्सर देखते हैं कि लोग पौधे लगवाकर भूल जाते हैं, और देखरेख के अभाव पौधे कुछ ही दिनों में नष्ट हो जाते हैं. इसलिए पौधे लगाकर उसकी देखरेख भी की जानी आवश्यक है.

Tags: Haryana news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर