लाइव टीवी

कृषि विभाग के लिए आफत बनी पराली, किसान कर रहे घेराव

Jaspal Singh | News18 Haryana
Updated: November 1, 2019, 5:09 PM IST
कृषि विभाग के लिए आफत बनी पराली, किसान कर रहे घेराव
किसानों को समझाते अधिकारी

शहर थाना प्रभारी यादविंदर सिंह ने बताया कि हरसेक की रिपोर्ट के अनुसार कृषि विभाग के अधिकारियों को सूचना मिली थी कि ढाणी चेतनपुर में कुछ खेतों में पराली को आग लगाई जा रही है.

  • Share this:
फतेहाबाद. हरियाणा के फतेहाबाद (Fatehabad) जिले में धान की पराली को आग लगाने को लेकर जहां किसान (Farmer) विवश हैं, वहीं अधिकारियों के लिए भी यह मसला जान की आफत बना हुआ है. आज जब कृषि विभाग (Agriculture Department) के अधिकारियों को सूचना मिली कि शहर के नजदीक ढाणी चेतनपुर में धान की पराली को आग लगाई जा रही है तो अधिकारी मौके पर पहुंच गए.

विभाग के अधिकारियों को देखकर किसानों का पारा बढ़ गया. गुस्साए किसानों ने विभाग के अधिकारियों का घेराव कर लिया. किसान इस बात से गुस्साए हुए थे कि एक तो उनकी पराली के प्रबन्ध के लिए सरकार कोई विकल्प नहीं दे रही है. यहां तक कि किसानों की पराली को खरीदने के मामले में भी सरकार कोई प्रबन्ध नहीं कर रही है.

किसानों ने लगाए ये आरोप

किसानों का आरोप था कि वह इतनी पराली का क्या करेंगे. इससे उनको परेशानी हो रही है. अगर सरकार पराली प्रबन्ध की और कदम उठाए तो वह पराली जलाना बन्द कर देंगे. किसानों के गुस्से को देखते हुए विभाग के अधिकारियों ने मामले की सूचना पुलिस को दी. सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंच गई और ग्रामीणों को समझा बुझाकर अधिकारियों को छुड़वाया.

पुलिस ने किसानों को समझाया

शहर थाना प्रभारी यादविंदर सिंह ने बताया कि हरसेक की रिपोर्ट के अनुसार कृषि विभाग के अधिकारियों को सूचना मिली थी कि ढाणी चेतनपुर में कुछ खेतों में पराली को आग लगाई जा रही है. इस सूचना के आधार पर कृषि विभाग के अधिकारी मौके पर गए थे. किसानों ने उनका विरोध किया था. पुलिस ने मौके पर जाकर किसानों को समझाया. उन्होंने बताया कि अभी विभाग के अधिकारियों की और से कोई शिकायत नहीं आई है. अगर शिकायत मिलती है तो कार्यवाही की जाएगी.

ये भी पढ़ें:- ट्रेन के लेडीज कोच में सफर कर रहे थे दो युवक, महिला ने टोका तो दिया ये जवाब...
Loading...

ये भी पढ़ें:- Tik Tok वीडियो बनाने के लिए युवक को पेड़ पर फंदे से लटकाया, केस दर्ज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए फतेहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 1, 2019, 5:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...