Home /News /haryana /

हरियाणा: लॉकडाउन में चोरी छुपे बेची थी शराब, अब लगा 1 करोड़ 12 लाख का जुर्माना

हरियाणा: लॉकडाउन में चोरी छुपे बेची थी शराब, अब लगा 1 करोड़ 12 लाख का जुर्माना

लॉकडाउन में बेची शराब. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

लॉकडाउन में बेची शराब. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

लॉकडाउन (Lockdown) के चलते सबकुछ बंद था, तो वहीं इतनी बड़ी मात्रा में शराब (Alcohol) बेचने वाली इन दो फर्मों की शिकायत के बाद बड़ा एक्शन लिया गया है.

फतेहाबाद. लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान बंद पड़े गोदामों से गायब हुई शराब के मामले में आबकारी कराधान विभाग ने बड़ी कार्रवाई की है. विभाग ने संबंधित फर्मों पर करोड़ों रुपए का जुर्माना लगाया है. डिस्कवरी वाइन्स और श्री विनायक वाइन्स पर विभाग ने 1 करोड़ 12 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है. यह दोनों ही फर्में फतेहाबाद और सिरसा के पूर्व विधायकों (EX Mla's) के परिजनों की हैं. अब विभाग इनसे वसूली के लिए जुट गया है.

दरअसल 23 मार्च को देशभर में लॉकडाउन के बाद शराबबंदी हो गई थी. विभाग ने शराब के गोदामों की फिजिकल वेरिफिकेशन के बाद इन्हें सील कर दिया था. मगर इस बीच विभाग को सूचना मिली कि जिले में शराब का कारोबार धड़ल्ले से जारी है. विभाग की टीम ने इन गोदामों की दोबारा चेकिंग की तो इन गोदामों में जहां हजारों पेटियां अंग्रेजी और देसी शराब की कम पाई गई तो एक गोदाम में अधिक शराब मिली.

सरकार को करोड़ों रुपए के राजस्व का चूना लगाया

विभाग ने तुरंत इस मामले में एक्शन लेते हुए रिपोर्ट को उच्चाधिकारियों के पास भेज दिया. मामले को विपक्ष ने भी जबरदस्त तरीके से उठाया और इस मामले की गूंज विधानसभा में गूंजी. लॉकडाउन के दौरान जहां बंद और सील पड़े गोदामों से शराब की हजारों पेटियां गायब होना चर्चा का विषय बना हुआ था वहीं इस अवैध बिक्री ने सरकार को करोड़ों रुपए के राजस्व का भी चूना लगाया था.



कब तक होगी वसूली

फिलहाल इस मामले में विभाग ने कड़ी कार्रवाई करते हुए जुर्माना तो ठोक दिया है लेकिन देखने वाली बात होगी कि वसूली कब तक होती है, क्योंकि इनमें से एक पूर्व विधायक अब सत्ताधारी पार्टी से जुड़ा है रसूखदार भी है.

Tags: Alcohol, Illegal alcohol

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर