Home /News /haryana /

हरियाणा: लॉकडाउन खुलते ही 12500 युवाओं की खुलेगी किस्मत, सरकार का बड़ा फैसला

हरियाणा: लॉकडाउन खुलते ही 12500 युवाओं की खुलेगी किस्मत, सरकार का बड़ा फैसला

ऑनलाइन डाटा के आधार पर ही कम्पनियां इंटरव्यू लेगी.

ऑनलाइन डाटा के आधार पर ही कम्पनियां इंटरव्यू लेगी.

सरकारी भर्तियों पर एक साल तक रोक लगाने के बयान के बाद पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा खट्टर के विरोध में उतरे तो सरकार ने लिया यू-टर्न, कहा-जिन-जिन विभागों में आवश्यकता होगी वहां पर सरकारी भर्तियां चालू रहेंगी.

    चंडीगढ़. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल (Manohar Lal khattar) ने कहा है कि कोरोना से उत्पन्न इस संकट के समय में भी प्रदेश सरकार सरकारी भर्तियां (Government recruitments) करेगी. वर्तमान परिस्थितियों में भी खाली पदों पर जिन-जिन विभागों में आवश्यकता होगी वहां पर सरकारी भर्तियां चालू रहेंगी. उन्होंने कहा कि 12500 पदों पर भर्ती प्रक्रिया लिखित परीक्षा के बाद पाइपलाइन में है, जैसे ही लॉकडाउन (lockdown) खत्म होगा, उनका परिणाम घोषित कर दिया जाएगा.

    उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार के पिछले और वर्तमान दोंनों समय के साढ़े 5 साल के कार्यकाल के दौरान हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग और हरियाणा लोक सेवा आयोग (Haryana Public Service Commission) के माध्यम से 86 हजार पदों पर भर्तियां की गई हैं जबकि पिछले सरकार के 10 वर्षों के पूरे कार्यकाल में 86 हजार भर्तियां की गई थी. उनका इशारा हुड्डा सरकार की ओर था.

    बताया गया है कि सीएम खट्टर ने पहले साल भर तक सरकारी भर्तियों पर रोक लगाने का एलान किया था. इसके साथ ही हरियाणा सरकार ने राज्य के सरकारी कर्मचारियों को एलटीसी की सुविधा भी बंद कर दी थी. ताकि खर्चों में कटौती क जा सके. बाद में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा सहित कई नेता इसके विरोध में उतर गए. इसके बाद फिर से मनोहरलाल खट्टर ने स्पष्ट किया है कि जरूरी भर्तियां चालू रहेंगी.

     मनोहर लाल खट्टर, Manohar Lal khattar, सरकारी भर्तियां, Government recruitments, लॉकडाउन के बाद नौकरी, job after lockdown, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, Bhupinder Singh Hooda, सरकारी भर्ती, Government job, vacant posts in haryana, हरियाणा में खाली पद, Haryana Public Service Commission, Haryana Staff Selection Commission, हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग, हरियाणा लोक सेवा आयोग
    मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (फाइल फोटो)


    भूपेंद्र सिंह हुड्डा (Bhupinder Singh Hooda) का कहना है कि पिछले काफी समय से देश में बेरोजगारी का माहौल है. कोरोना की मार पड़ने से पहले ही प्रदेश में बेरोजगारी (Unemployment rate) का आंकड़ा 28 फीसदी के उच्च दर तक पहुंच गया है. कोरोना संकट खत्म होने के बाद यह आंकड़ा और बढ़ सकता है.

    ऐसे में अगर सरकारी भर्तियां भी बंद हो गईं तो प्रदेश के युवाओं को रोजगार कैसे मिलेगा. हुड्डा ने कहा कि मौजूदा मुश्किल हालातों से उबरने के लिए ज्यादा से ज्यादा रोजगार देने की जरूरत है, लेकिन सरकार इसके उलट फैसले ले रही है. एक साल बाद भर्ती होगी तो कुछ युवा ओवरएज भी हो जाएंगे, जबकि वे भर्ती की तैयारियों में जुटे हुए हैं.

    ये भी पढ़़े़ें:  इस गांव ने कायम की दान देने की मिसाल, कोराना से जंग के लिए सौंपा 1 करोड़ रुपये का चेक! 

    इस नेक काम के लिए 1,00,000 हैक्टेयर में धान नहीं पैदा करेगा यह राज्य 

    Tags: Government job, Haryana Government, Lockdown. Covid 19, Manohar Lal Khattar

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर