बदमाशों ने ऐप से बुक की ओला कैब, ड्राइवर को धक्का दिया और गाड़ी लेकर हो गए फरार!

गुरुग्राम की ग्वाल पहाड़ी का मामला, कापसहेड़ा पुलिस ने मामला दर्ज कर शुरू की जांच

News18Hindi
Updated: May 10, 2019, 11:56 AM IST
बदमाशों ने ऐप से बुक की ओला कैब, ड्राइवर को धक्का दिया और गाड़ी लेकर हो गए फरार!
प्रतीकात्मक फोटो
News18Hindi
Updated: May 10, 2019, 11:56 AM IST
दिल्ली में लूट और ठगी के ऐसे-ऐसे मामले आ रहे हैं कि आपके होश उड़ जाएंगे. शातिर अपराधियों ने एक ऐप से कैब बुक की और फिर उसे लूटकर फरार हो गए. मामला गुरुग्राम की ग्वाल पहाड़ी का है. जहां सुनसान जगह पर ड्राइवर को धक्का दिया और गाड़ी लेकर फरार हो गए. कापसहेड़ा  पुलिस ने मौका मुआयना करने के बाद मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. जो कैब लूटी गई वो ओला की बताई गई है. इस मामले तीन बदमाश शामिल बताए जा रहे हैं.  कैब में लाइसेंस भी रखा हुआ था. लूट के बाद मामले की जानकारी उसने अपने रिश्तेदार को दी और फिर पुलिस को सूचित किया.

पुलिस के अनुसार, 20 वर्षीय संदीप कुमार धर्मशाला वाली गली, बिजवासन में अपने रिश्तेदार के घर पर रहता है. वह अपने रिश्तेदार की गाड़ी ओला कैब में चलाता है. उसकी रात को 12 बजे से दिन में 12 बजे तक ड्यूटी थी. पांच मई की सुबह साढ़े तीन से 4 बजे ड्यूटी के दौरान वो द्वारका दिल्ली की तरफ जा रहे थे. बताया गया है कि इसी दौरान उनके पास एक मोबाइल से गाड़ी की बुकिंग आई.  (ये भी पढ़ें: सास-बहू के झगड़े में ननद को चौथी मंजिल से फेंका, आईसीयू में भर्ती!)



ओला कैब बुकिंग की जो प्रक्रिया है उसे संदीप ने अपनाया. आरोपी ने अपना नाम मोनू बताया और कहा कि वह दिल्ली के सीआईएसएफ कैंप के बाहर खड़ा है. संदीप वहां पहुंचे तो उन्हें तीन लड़के मिले. संदीप ने पुलिस को बताया कि तीनों से दो पिछली सीट पर बैठ गए जबकि एक लड़का बगल वाली सीट पर. आरोपी ने ओटीपी नंबर दिया और सफर शुरू हो गया.

crime in delhi ncr, delhi police, criminal, ola cab, robbery, crime in gurugram, kapashera, दिल्ली में अपराध, दिल्ली पुलिस, अपराधी, ओला कैब, लूट, गुरुग्राम में अपराध, कापसहेड़ा,           दिल्ली पुलिस (file photo)

संदीप के मुताबिक आरोपी ने इफको चौक छोड़ने के लिए बुकिंग की थी. जब वो गुरुग्राम के इफको चौक पहुंचा तब उन्होंने कहा कि फरीदाबाद छोड़ दो. तो संदीप ने मना कर दिया क्योंकि बुकिंग गुरुग्राम के इफको चौक तक ही हुई थी. इसके बाद आरोपियों ने गुरुग्राम के ही खुशबू चौक छोड़ने के लिए कहा. चूंकि मामला गुरुग्राम का ही था तो संदीप ने हां कर दिया.

जब संदीप कैब लेकर ग्वाल पहाड़ी के पास पहुंचा तो तीनों लड़कों ने गाड़ी रोकने के लिए कहा. खुशबू चौक यहीं पर है. यह फरीदाबाद से गुरुग्राम का एंट्री प्वाइंट है. इलाका सुनसान रहता है. संदीप के मुताबिक तीनों लड़कों ने उसे जबरन गाड़ी से उतार दिया. उनमें से एक ने तीन हजार रुपये भी छीन लिए. जब उसने इसका विरोध किया तो आरोपियों ने जान से मारने की धमकी दी और गाड़ी लेकर फरार हो गए.

ये भी पढ़ें:
Loading...

झारखंड के गांव का रईस 'Robinhood' यूं डालता था बैंक खातों पर साइबर डाका 

गर्लफ्रेंड के लिए Wife को छोड़ा फिर किया मां-बाप का Murder

Inside Story : उस कातिल की तलाश जिसका कोई चेहरा ही नहीं था

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...