गुरुग्रामः तीन साल की बच्ची की रेप के बाद बेरहमी से हत्या, प्राइवेट पार्ट में डाली लकड़ी

बच्ची का शरीर ईंटों से दबा हुआ था और उसके प्राइवेट पार्ट में 10 सेंटीमीटर की लकड़ी घुसी हुई थी. उसके चेहरे पर एक पॉलीथीन बैग पड़ा हुआ था.

News18.com
Updated: November 13, 2018, 1:23 PM IST
गुरुग्रामः तीन साल की बच्ची की रेप के बाद बेरहमी से हत्या, प्राइवेट पार्ट में डाली लकड़ी
सांकेतिक तस्वीर
News18.com
Updated: November 13, 2018, 1:23 PM IST
दिल्ली से सटे गुरुग्राम में दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. तीन साल की एक बच्ची के साथ बलात्कार करके उसकी हत्या कर दी गई. बच्ची का शरीर ईंटों से दबा हुआ था और उसके प्राइवेट पार्ट में 10 सेंटीमीटर की लकड़ी घुसी हुई थी. उसके चेहरे पर एक पॉलीथीन बैग पड़ा हुआ था. बच्ची की लाश नग्न अवस्था में सेक्टर 66 में मिली.

बच्ची रविवार सुबह से गायब थी. हालांकि घर वालों ने गायब होने की शिकायत पुलिस में दर्ज नहीं कराई थी और खुद ही उसे खोजने में जुटे हुए थे. पुलिस ने बताया कि सोमवार को बच्ची की लाश गुगा कॉलोनी में एक खाली दुकान के पास मिली. अधिकारी ने बताया कि बच्ची को एक पड़ोसी ने देखा तो पुलिस को खबर की गई.

ये भी पढ़ें: जब आदमी-औरत के बीच सेक्स 'नॉर्मल' नहीं माना जाता था

हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चलता है कि हत्या के पहले बच्ची को काफी बेरहमी से पीटा गया. उसके सीने, कमर और पीठ पर गंभीर चोटों के निशान पाए गए हैं. सिविल अस्पताल के फोरेंसिक एक्सपर्ट ने कहा कि उसकी मौत सिर पर चोट लगने और अंदरूनी तौर पर खून बहने से हुई. उसके सिर पर किसी भारी चीज़ से वार किया गया जिसकी वजह से उसकी खोपड़ी में गहरी चोट आई थी.

अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि बलात्कार के पहले उसे कुछ खिला-पिलाकर बेहोश किया गया था नहीं, जबकि वारदात के वक्त किसी ने उसके चीखने-चिल्लाने की आवाज भी नहीं सुनी.

पुलिस की शुरुआती छानबीन से पता चलता है कि आरोपी बच्ची को चॉकलेट देने के बहाने बहकाकर अपने साथ ले गया. उस वक्त वो दूसरी बच्चियों के साथ खेल रही थी. दूसरी बच्चियों ने उसके परिवार वालों को इस बारे में बताया. लेकिन परिवार वालों ने पुलिस को सूचना देने के बजाय खुद ही खोजबीन करने की कोशिश की.

रेप पीड़िता का जबरन राजीनामा करवाने के आरोप, 2 पुलिसकर्मियों समेत 5 पर केस दर्ज
Loading...

एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने आरोपी की पहचान उत्तर प्रदेश निवासी सुनील (20) के रूप में की है. वह दिहाड़ी मजदूरी करता है. वह पास में ही दो बहनों के साथ रहता है. मरने वाली बच्ची मूलरूप से पश्चिम बंगाल की रहने वाली थी. आरोपी सुनील कुछ दिन पहले ही काम तलाश में गुरुग्राम आया था.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर