डिप्‍टी सुपरींटेंडेंट ने ही जेल को बना रखा था नशे का अड्डा, कैदियों को सप्‍लाई करता था ड्रग्‍स और सिम कार्ड
Chandigarh-City News in Hindi

डिप्‍टी सुपरींटेंडेंट ने ही जेल को बना रखा था नशे का अड्डा, कैदियों को सप्‍लाई करता था ड्रग्‍स और सिम कार्ड
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

गुड़गांव पुलिस ने गुरुवार को बताया कि उन्होंने भोंडसी कारागार के एक अधिकारी सहित दो लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से मादक पदार्थ और सिमकार्ड बरामद किए हैं. ये सभी कथित रूप से कैदियों को बेचने के लिए थे.

  • Last Updated: July 24, 2020, 7:55 AM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. जिला मॉडर्न जेल भोंडसी में नशा और सिमकार्ड (Sim Card) सप्लाई करने वाला जेल उपाधीक्षक व उसके एक साथी को जेल के अंदर नशा सप्लाई करने व सिम कार्ड सप्लाई करने के आरोप में एसीपी सोहना (SP Sohna) व क्राइम टीम (Crime Team) गुरुग्राम ने गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर को सूचना मिली थी कि सोहना के भोंडसी में बनी जिला मॉडर्न जेल में बन्द अपराधियों के पास नशीली वस्तुएं और मोबाईल फोन पहुचाए जाते हैं. जिस सूचना पर पुलिस आयुक्त द्वारा एसीपी सोहना के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई. टीम ने डिप्टी सुपरिटेंडेंट धर्मबीर चौटाला के जेल परिसर में बने सरकारी निवास पर छापेमारी की. छापेमारी के दौरान पुलिस टीम ने मौके से 11 मोबाइल सिम कार्ड 4जी व 230 ग्राम नशीला पदार्थ बरामद बरामद किया है.

गुड़गांव पुलिस ने गुरुवार को बताया कि उन्होंने भोंडसी कारागार के एक अधिकारी सहित दो लोगों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से मादक पदार्थ और सिमकार्ड बरामद किए हैं. ये सभी कथित रूप से कैदियों को बेचने के लिए थे. गुड़गांव पुलिस के सहायक आयुक्त, अपराध शाखा प्रीतपाल सांगवान ने बताया, 'हमारे पास पिछले कई दिनों से सूचना थी कि कुछ लोग जेल में सिम कार्ड और मादक पदार्थ की आपूर्ति करते हैं. हम इस पर नजर रख रहे थे. हमें सूचना थी कि इसमें जेल के अधिकारी/कर्मचारी भी शामिल हैं.

उन्होंने बताया कि पुलिस ने जाल बिछाकर जेल के उपाधीक्षक धरमवीर चौटाला और रवी उर्फ गोल्डी को चौटाला के आवास से गिरफ्तार किया. रवि वहां पर मादक पदार्थ और सिम कार्ड लेकर आया था. पुलिस ने बताया कि आगे की जांच जारी है. (रिपोर्ट- संजय राघव)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading