लाइव टीवी

मंदी के बहाने होंडा ने निकाल दिए 2500 अस्थाई कर्मचारी, मानेसर में हो रहा विरोध प्रदर्शन

Neeraj Ambawata | News18 Haryana
Updated: November 5, 2019, 6:13 PM IST
मंदी के बहाने होंडा ने निकाल दिए 2500 अस्थाई कर्मचारी, मानेसर में हो रहा विरोध प्रदर्शन
नौकरी से निकाले जाने के बाद प्लांट के बाहर धरने पर बैठे कर्मचारी

हरियाणा के मानेसर स्थित प्लांट से होंडा कंपनी (Honda Company plant at Manesar) ने तीन माह के अंदर करीब 2500 अस्थाई कर्मचारियों को निकाल दिया है. ये कर्मचारी प्लांट के बाहर विरोध प्रदर्शन (Protest ) कर रहे हैं.

  • Share this:
गुरुग्राम. दिल्ली से सटे हरियाणा  के मानेसर स्थित होंडा कंपनी के प्लांट (Honda Company plant at Manesar) से 3 महीने के अंदर करीब ढाई हजार से ज्यादा अस्थाई कर्मचारियों (casual employees ) को निकाल दिया गया है. निकाले गए कर्मचारियों का कहना है कि बिना किसी नोटिस के ही उन्हें बाहर कर दिया गया है. इसके विरोध में कर्मचारी परिसर के अंदर ही धरने पर बैठ गए तो कुछ बाहर नारेबाजी कर रहे हैं. कर्मचारियों के मुताबिक, आर्थिक मंदी (Economic slowdown) के चलते इन्हें बाहर निकाला गया है. ये कर्मचारी 10 साल से ज्यादा समय से होंडा के इस प्लांट में काम कर रहे थे.   कंपनी के निकाले गए कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर कंपनी के गेट के बाहर ही धरने पर बैठ गए हैं. कंपनी ने सुरक्षा के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल परिसर के अंदर तैनात करवा दिया है.

करीब 3 माह से वेतन भी नहीं मिला

आर्थिक मंदी के चलते पहले  देश की बड़ी मारुति कंपनी से कर्मचारियों को निकाला था और अब होंडा ने भी वही रुख अपनाया जिन कर्मचारियों को कंपनी से निकाला है अब उनके सामने अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए भी कुछ नहीं है. करीब 3 महीने से इनका वेतन भी रोक दिया गया है. वैसे भी अस्थाई कर्मचारियों को कंपनी से वेतन के रूप में 14 हजार 200 रुपए ही मिलते थे. कर्मचारियों ने यह भी बताया कि वे करीब 10 साल से इस कंपनी में काम कर रहे हैं तो कंपनी को भी हमारे बारे में सोचना चाहिए. उनकी मांग है कि निकाले गए कर्मचारी को हर साल के हिसाब से एक लाख रुपए प्रति कर्मचारी कंपनी को देना चाहिए.



प्रबंधन ने मीडिया से बात करने से किया इनकार

निकाले गए कर्मचारियों के बारे में जब हमने कंपनी मैनेजमेंट से बात करनी चाही तो कंपनी मैनेजमेंट ने बात करने से साफ इनकार कर दिया. कंपनी मैनेजमेंट का कोई भी सदस्य मीडिया के सामने तक नहीं आया. सिर्फ अंदर से ही मैसेज भिजवा दिया कि हमें किसी मीडियाकर्मी से कोई बात नहीं करनी है.

ये भी पढ़ें- नेता के गुर्गे ने गाड़ी पर शराब पीते कहा- हटाने के लिए और पुलिस बुला..
Loading...

दुष्यंत ने विधानसभा के प्रवेशद्वार पर टेका माथा तो मां नैना ने भी लिए आशीर्वाद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुड़गांव से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 6:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...