प्रद्युम्न हत्याकांड: 'खट्टर के मंत्री राव नरबीर सिंह नहीं चाहते थे CBI जांच हो'

प्रद्युम्न की हत्या के मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा सीबीआई जांच की घोषणा से एक दिन पहले कैबिनेट मंत्री राव नरबीर सिंह ने परिवार से सीबीआई जांच की मांग नहीं करने के लिए कहा था.

आईएएनएस
Updated: November 14, 2017, 9:34 PM IST
प्रद्युम्न हत्याकांड: 'खट्टर के मंत्री राव नरबीर सिंह नहीं चाहते थे CBI जांच हो'
प्रद्युम्न के पिता बरुण चंद्र ठाकुर
आईएएनएस
Updated: November 14, 2017, 9:34 PM IST
गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में सात वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या के मामले में एक और बड़ा खुलासा हुआ है. यह खुलासा खुद प्रद्युम्न के पिता बरुण चंद्र ठाकुर ने किया है.

बरुण चंद्र ठाकुर ने कहा कि प्रद्युम्न की हत्या के मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा सीबीआई जांच की घोषणा से एक दिन पहले कैबिनेट मंत्री राव नरबीर सिंह ने परिवार से सीबीआई जांच की मांग नहीं करने के लिए कहा था.

प्रद्युम्न के पिता ने कहा कि नरबीर सिंह 14 सितंबर को उनके घर गए थे और कड़े शब्दों में सीबीआई जांच की मांग का विरोध किया था. ठाकुर ने कहा कि मंत्री उस आदमी के साथ थे, जिसे वह जानते तक नहीं थे.

बरुण ने बताया कि पीडब्लूडी, वन और नगर विमानन मंत्री उनके सोहना रोड स्थित आवास मारुति कुंज पहुंचे थे और उनसे हत्या मामले में सीबीआई जांच की मांग न करने के लिए कहा था.

ठाकुर ने मंत्री के हवाले से कहा, "सीबीआई एक बड़े नाम के अलावा कुछ नहीं है. एजेंसी के पास पहले से ही बहुत काम है और वह एक साल या उससे अधिक समय से पहले जांच करने में सक्षम नहीं है. हरियाणा पुलिस सीबीआई से बेहतर एजेंसी है और वह अपनी जांच रिपोर्ट तय समय में दाखिल कर देगी."

ठाकुर ने कहा, "जब हमने कहा कि मामले में हम सीबीआई जांच चाहते हैं तो मंत्री ने तर्क दिया, "क्या होगा अगर सीबीआई भी इस तथ्य के साथ आएगी कि स्कूल बस कंडक्टर अशोक कुमार बच्चे का उत्पीड़न करने में नाकाम हो गया, इस कारण उसने बच्चे को मार डाला."

उन्होंने कहा, "उसके पहले मंत्री नौ सितंबर को प्रद्युम्न के दाह संस्कार के समय मौजूद थे और वह 10 सितंबर को दोबारा मिलने आए और अपनी संवेदनाएं व्यक्त की, लेकिन वह मुझसे मिले तक नहीं."

ठाकुर के दावे पर जब मंत्री का पक्ष जानने के लिए उनसे बात करनी चाही तो उनके निजी सचिव लक्ष्मीनारायण ने बताया कि मंत्री चंडीगढ़ में हैं और उनसे बात करना संभव नहीं है.

हरियाणा में भाजपा नेता सीबीआई द्वारा प्रद्युम्न की हत्या में उसी स्कूल के 11वीं कक्षा के छात्र को दोषी ठहराए जाने को लेकर विभाजित हैं.

प्रद्युम्न ठाकुर की नृशंस हत्या के मामले में उस वक्त नाटकीय मोड़ आया, जब सीबीआई ने रेयान इंटरनेशनल स्कूल के ही 11वीं कक्षा के छात्र को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया. सीबीआई ने छात्र पर बाथरूम के अंदर हत्या करने का आरोप लगाया.

नरबीर सिंह हरियाणा पुलिस के समर्थन में उतरे और सीबीआई द्वारा छात्र की गिरफ्तारी को अनुचित करार दिया.

गुरुग्राम की बादशाहपुर विधानसभा के भाजपा विधायक राव नरबीर सिंह ने कहा कि मैं सीबीआई द्वारा जांच के बाद निकले निष्कर्षों से बिल्कुल भी सहमत नहीं हूं. हरियाणा पुलिस की जांच स्वीकार्य करने लायक थी. लेकिन केंद्रीय मंत्री इंद्रजीत सिंह, गुरुग्राम के एक सांसद, हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज और गुरुग्राम के भाजपा विधायक उमेश अग्रवाल ने सीबीआई का सर्मथन किया है.

ज्ञात हो कि गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल के कक्षा 2 के छात्र प्रद्युम्न की स्कूल में 8 सितंबर को गला रेतकर हत्या कर दी गई थी. प्रद्युम्न का शव स्कूल के शौचालय में पाया गया था.
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Haryana News in Hindi यहां देखें.

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर