विधानसभा चुनाव: हरियाणा में शुरू हुआ आयाराम-गयाराम का खेल, बिखर गई इनेलो!

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 3:33 PM IST
विधानसभा चुनाव: हरियाणा में शुरू हुआ आयाराम-गयाराम का खेल, बिखर गई इनेलो!
हरियाणा में विधायकों के पाला बदलने का खेल शुरू हो चुका है!

जननायक जनता पार्टी (JJP) और इनेलो (INLD) में अभी नहीं थमी है जंग. दुष्यंत चौटाला ने इनेलो से चार पूर्व विधायक तोड़ लिए हैं. जबकि उसके 10 वर्तमान विधायक बीजेपी में शामिल हो चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 7, 2019, 3:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Assembly Election) कुछ ही दिन में घोषित होने वाले हैं. माना जा रहा है कि 8 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की रोहतक में होने वाली रैली और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) की जन आशीर्वाद यात्रा के समापन के बाद चुनाव कार्यक्रम घोषित हो सकता है. इस बीच आयाराम-गयाराम का खेल शुरू हो गया है. कमजोर हो रही पार्टियों से उसके नेता टूटकर मजबूत संगठनों का दामन थामने लग गए हैं. इनेलो (INLD) के ज्यादातर विधायकों ने अपना नया ठिकाना तलाश लिया है.

एक तरफ जाटों की खाप इनेलो और जेजेपी (JJP) को एक करने में जुटे हुए थे तो दूसरी ओर अंदरखाने दोनों पार्टियों में एक-दूसरे को कमजोर करने की जंग जारी है. जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला ने अपने चाचा अभय चौटाला की पार्टी इनेलो के चार पूर्व  विधायक तोड़ लिए हैं. जिन्हें दुष्यंत ने दिल्ली स्थित जेजेपी के राष्ट्रीय कार्यालय में पार्टी की सदस्यता दिलवाई. इनमें राजदीप फोगाट, नैना सिंह चौटाला, पिरथी सिंह नंबरदार और अनूप धानक शामिल हैं. दुष्यंत चौटाला ने चारों पूर्व विधायकों को विधानसभा चुनाव में महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां देने का भरोसा दिया है. दुष्यंत चौटाला ने इनेलो से नाराज होकर दिसंबर 2018 में नई पार्टी बना ली थी.

Haryana Assembly Election 2019, हरियाणा विधानसभा चुनाव, aya ram gaya ram politics, आयाराम-गयाराम की राजनीति, vidhan sabha chunav, bjp, बीजेपी, jjp, जेजेपी, inld, इनेलो, MLA, विधायक, election commission, चुनाव आयोग, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, PM narendra modi, मनोहरलाल खट्टर, Manohar Lal Khattar
इनेलो के ज्यादातर विधायक बीजेपी में शामिल हो चुके हैं


बीजेपी शामिल हो चुके इनेलो विधायक

इनेलो के सबसे ज्यादा वर्तमान विधायक बीजेपी में शामिल हुए हैं. इनमें नूंह से विधायक जाकिर हुसैन, फिरोजपुर झिरका से विधायक नसीम अहमद, हथीन के एमएलए केहर सिंह रावत, फरीदाबाद-एनआईटी से विधायक नगेंद्र भड़ाना, जींद के जुलाना से इनेलो विधायक परमिंदर सिंह ढुल, रानियां के विधायक रामचंद्र कंबोज, सिरसा के एमएलए मक्खन लाल सिंगला, फतेहाबाद से बलवान सिंह दौलतपुरिया, हिसार के नलवा से विधायक रणबीर सिंह गंगवा, फतेहाबाद से रविंद्र बलियाला प्रमुख हैं.

हरियाणा की देन है आयाराम-गयाराम

हरियाणा में आयाराम-गयाराम की संस्कृति नई नहीं है. राजनीति के इस कल्चर की जड़ ही हरियाणा है. वरिष्ठ पत्रकार नवीन धमीजा का कहना है कि आयाराम-गयाराम का जुमला दल-बदल के पर्याय के रूप में वर्ष 1967 में मशहूर हुआ. हरियाणा के हसनपुर (सुरक्षित) क्षेत्र से निर्दलीय विधायक गयालाल ने 1967 में एक ही दिन में तीन बार दल बदल कर रिकॉर्ड बना दिया था. इसके साथ ही भारतीय राजनीति में आयाराम-गयाराम का मुहावरा मशहूर हो गया. हरियाणा के राज्यपाल रह चुके जीडी तपासे ने एक बार कहा था, 'जिस तरह हम कपड़े बदलते हैं, वैसे ही यहां के विधायक दल बदलते हैं.' हरियाणा के पहले सीएम भगवत दयाल शर्मा की सरकार गिरने के दौरान इस कहावत का जन्‍म हुआ था.
Loading...

यह भी पढ़ें:

हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019: सिर्फ लहर के भरोसे नहीं है बीजेपी!

अजब-गजब: यहां एक साल में 4 बार प्रेग्नेंट हो गईं महिलाएं! CBI कर रही जांच

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 7, 2019, 2:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...