लाइव टीवी

मेवात ने बीजेपी को दिया झटका, एक मुस्लिम उम्मीदवार हारा, कड़े मुकाबले में दूसरा आगे निकला

News18Hindi
Updated: October 24, 2019, 2:45 PM IST
मेवात ने बीजेपी को दिया झटका, एक मुस्लिम उम्मीदवार हारा, कड़े मुकाबले में दूसरा आगे निकला
बीजेपी ने मुस्लिम बहुल इलाके मेवात में दो मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया है.

मेवात (Mewat) से बीजेपी के लिए बुरी खबर आई है. एक मुस्लिम (Muslim) उम्मीदवार जाकिर हुसैन कांटे के मुकाबले में फंसे हुए हैं तो उसके दूसरे उम्मीदवार नसीम अहमद अपने विरोधी कांग्रेस (Congress) उम्मीदवार मामन से फिरोजपुर झिरका (Firozpur Jhirka) सीट हार चुके हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2019, 2:45 PM IST
  • Share this:
चंडीगढ़. सुर्खियों में रहने वाला हरियाणा (Haryana) का मुस्लिम (Muslim) बहुत मेवात (Mewat) अब सियासी सुर्खी बना हुआ है. बीजेपी (BJP) ने मेवात जिले में आने वाली दो विधासनसभा सीट नूंह (Nuh) और फिरोजपुर झिरका (Firozpur Jhirka) में दो मुस्लिम उम्मीदवारों पर दांव लगाया था. नूंह से जाकिर हुसैन जो पहले से ही तीन बार के विधायक हैं तो झिरका से नसीम अहमद जो अपनी हैट्रिक बनाने की चाहत में ये चुनाव लड़ रहे हैं.

झिरका में कांग्रेस के मामन ने 36983 वोट हासिल कर दो बार के विधायक बीजेपी के नसीम अहमद को हरा दिया है. वहीं नूंह में तीन बार के विधायक और बीजेपी उम्मीदवार जाकिर हुसैन कांग्रेस उम्मीदवार आफताब अहमद के सामने कांटे की टक्कर में फंसे हुए हैं. मुकाबला नैक टू नैक चल रहा है.

मेवात की इसलिए चुनावों में हो रह है चर्चा

हरियाणा के मेवात को मुस्लिम बहुल इलाका कहा जाता है. इसी ज़िले की नूंह और फिरोज़पुर झिरका सीट पर बीजेपी ने दो मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट दिया था. नूंह से जहां सियासत के पुराने खिलाड़ी ज़ाकिर हुसैन तो फिरोज़पुर झिरका सीट से नसीम अहमद पर बीजेपी ने भरोसा जताया. खास बात ये है कि दोनों ही उम्मीदवारों का एक पुराना सियासी सिज़रा (इतिहास) भी है. नसीम अहमद जहां हैट्रिक लगाने की चाह में है तो ज़ाकिर हुसैन खानदान की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए चौथी जीत दर्ज कराने चाहेंगे.

इसलिए बीजेपी ने मुस्लिम उम्मीदवारों पर खेला दांव

वरिष्ठ पत्रकार राजुउद्दीन ने बताया, “ज़ाकिर हुसैन को टिकट देकर बीजेपी ने एक तीन से दो निशाने साधे. ज़ाकिर हुसैन का मेव बिरादरी में भी अच्छा दखल है. जबकि इससे पहले वो सोहना विधानसभा से चुनाव जीत चुके हैं. सोहना सीट मुस्लिम बहुल बताई जाती है. बीजेपी ने इस बार वहां से संजय सिंह को टिकट दिया. अब संजय सिंह ने नूंह में ज़ाकिर हुसैन के लिए गैरमुस्लिम वोटों की लामबंदी की तो, ज़ाकिर हुसैन ने सोहना में संजय सिंह के लिए मुस्लिम वोटों की. जबकि कांग्रेस के डॉ. शम्सउद्दीन इस सीट से अपनी किस्मत आजमा रहे थे. लेकिन उन पर बाहरी होने का ठप्पा लगा हुआ है.”

ये भी पढ़ें-
Loading...

दुकानदार ने प्लास्टिक की थैली में नहीं दिया सामान, गुस्साए ग्राहक ने पीट-पीटकर मार डाला

भूपेन्द्र हुड्डा पर पहले भरोसा जताया होता तो इतना संघर्ष नहीं कर रही होती कांग्रेस

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 12:51 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...