• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • Haryana Election Results 2019: एक साल में दूसरी बार हार गए कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला

Haryana Election Results 2019: एक साल में दूसरी बार हार गए कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला

कांगेस नेता रणदीप सुरजेवाला बीजेपी के लीलाराम से 567 वोटों से हार गए हैं.  (File Photo)

कांगेस नेता रणदीप सुरजेवाला बीजेपी के लीलाराम से 567 वोटों से हार गए हैं. (File Photo)

रणदीप सुरजेवाला पांच बार विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं. जिसमें से चार बार उन्हें जीत हासिल हुई थी जबकि जींद में हुए उपचुनाव वो हार गए थे. 2014 में भी उन्होंने कैथल सीट से चुनाव लड़ा था.

  • Share this:
    चंडीगढ़. टीवी पर कांग्रेस (Congress) के चेहरा और पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) चुनाव हार गए हैं. हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 (Haryana Assembly Election 2019) के आए नतीजे में सुरजेवाला को बीजेपी के लीलाराम ने 567 वोटों से हराया है. सुरजेवाला कांग्रेस के टिकट पर कैथल सीट से चुनाव मैदान में थे. नतीजे घोषित होने के बाद सुरजेवाला ने यहां दोबारा काउंटिंग करवाने की मांग की है.

    बता दें कि सुरजेवाला पिछले दिनों जींद (Jind) सीट पर हुए उपचुनाव को भी हार गए थे. सुरजेवाला के पिता शमशेर सिंह सुरजेवाला हरियाणा की पहली कैबिनेट में मंत्री बने थे.

    कांग्रेस के लिए चौंकाने वाला है रणदीप सुरजेवाला को टक्कर मिलना  

    हरियाणा के वरिष्ठ पत्रकार राजुउद्दीन जंग बताते हैं कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में शुमार और हमेशा आलाकमान के आसपास दिखाई दिखाई देने वाले रणदीप सुरजेवाला पांच बार विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं. जिसमें से चार बार उन्हें जीत हासिल हुई थी जबकि जींद में हुए उपचुनाव वो हार गए थे. 2014 में भी उन्होंने कैथल सीट से चुनाव लड़ा था.

    ओमप्रकाश चौटाला को हरा चुके हैं सुरजेवाला

    हरियाणा की सियासत और कांग्रेस पार्टी के अंदर रणदीप सुरजेवाला को कम कर के नहीं आंका जाता है. अगर राज्य की सियासत के इतिहास पर जाएं तो वर्ष 1996 और 2000 में सुरजेवाला हरियाणा के मुख्यमंत्री रहे और इंडियन नेशनल लोकदल के नेता ओमप्रकाश चौटाला को दो बार हरा चुके हैं.

    ये भी पढ़ें-

    जीते तो सियासी इतिहास लिखेंगे बीजेपी के ये दो मुस्लिम उम्मीदवार

    भूपेन्द्र हुड्डा पर पहले भरोसा जताया होता तो इतना संघर्ष नहीं कर रही होती कांग्रेस

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज