हरियाणा: BJP, JJP और निर्दलीय विधायकों में से कौन बन सकता है मनोहर सरकार का मंत्री?
Chandigarh-City News in Hindi

हरियाणा: BJP, JJP और निर्दलीय विधायकों में से कौन बन सकता है मनोहर सरकार का मंत्री?
हरियाणा में कौन बनेगा मंत्री का खेल शुरू

हरियाणा: BJP नेता कैप्टन अभिमन्यु को हराने वाले JJP विधायक को मंत्री बनाने की तैयारी! जननायक जनता पार्टी (JJP), बीजेपी (BJP) और निर्दलीय (Independent MLA) कोटे से इन विधायकों का नाम मंत्री बनने की दौड़ में शामिल है. राजनीतिक गुणा-भाग के साथ जातीय (Caste Factor) और क्षेत्रीय संतुलन भी साधा जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2019, 4:37 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा में मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री बनने के बाद अब मंत्री पद के लिए जंग शुरू हो गई है. बीजेपी, जेजेपी और निर्दलीय विधायक अपने-अपने सियासी आकाओं से सिफारिश लगवा रहे हैं. हरियाणा (Haryana) में बीजेपी (BJP) के कद्दावर नेताओं में से एक कैप्टन अभिमन्यु को विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Election 2019) में हराने वाले जननायक जनता पार्टी (JJP) विधायक को मंत्री बनाने की तैयारी है. गठबंधन की मजबूरी में बीजेपी को यह फैसला करना पड़ रहा है. मनोहरलाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) की पहली सरकार में आठ महत्वपूर्ण विभागों के मंत्री रहे कैप्टन को नारनौंद सीट से हराकर जेजेपी नेता राम कुमार गौतम विधानसभा पहुंचे हैं. दोनों पार्टियों के सूत्र बता रहे हैं कि दुष्यंत चौटाला गौतम को मंत्रिमंडल (Haryana Cabinet Minister) में शामिल करवाएंगे. जानते हैं कि किसके कोटे से कौन हरियाणा सरकार (Haryana Government) में मंत्री बनने की दौड़ में शामिल है.

जननायक जनता पार्टी का कोटा 

मंत्रिमंडल में जेजेपी जाट (Jat), दलित (Dalit) और ब्राह्मण (Brahmin) पर फोकस करेगी. जेजेपी के चार दलित विधायक जीते हैं, इनमें से एक का मंत्री बनना तय माना जा रहा है. जेजीपी कोटा में जाट समाज से दुष्यंत चौटाला, उपमुख्यमंत्री बने हैं. इसके अलावा ब्राह्मण समाज से राम कुमार गौतम को कैबिनेट मंत्री का पद मिल सकता है. जबकि दलित समाज से ईश्वर सिंह और अनूप धानक में से किसी एक को जगह मिलने की संभावना है.



Haryana politics, हरियाणा की राजनीति, बीजेपी, BJP, जेजेपी, JJP, घोषणापत्र, Manifesto, आर्थिक स्थिति, Economic condition, सीएम मनोहरलाल खट्टर, Manohar Lal Khattar, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, Dushyant Chautala, सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडिया इकोनॉमी, Centre for Monitoring India Economy, Haryana Poll Results, हरियाणा विधानसभा चुनाव, बेरोजगारी भत्ता, Unemployment allowance, senior citizen pension, बुजुर्ग पेंशन
मंत्रिमंडल में जेजेपी जाट, दलित और ब्राह्मण समाज को प्रतिनिधित्व देगी!

बीजेपी का कोटा

बीजेपी के दिग्गजों के हारने के बाद मंत्रिमंडल गठन में मनोहरलाल खट्टर का रास्ता आसान हो गया है. वर्ष 2014 में मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शामिल रहे कैप्टन अभिमन्यु और रामबिलास शर्मा चुनाव हार चुके हैं. बीजेपी कोटे में पंजाबी समाज से आने वाले मनोहरलाल खट्टर दूसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ले चुके हैं. अनिल विज का कैबिनेट मंत्री लगभग तय माना जा रहा है. बताया जा रहा है कि गुर्जर समाज से आने वाले कंवरपाल गुर्जर को कैबिनेट मंत्री का पद मिल सकता है. वो विधानसभा के स्पीकर रह चुके हैं. मुख्यमंत्री के खासमखास माने जाने वाले दीपक मंगला को कैबिनेट मंत्री बनाए जाने की चर्चा है. वैश्य समाज से मंगला और कमल गुप्ता में से किसी एक का नंबर लग सकता है. मंगला सीएम के राजनीतिक सलाहकार रह चुके हैं. उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के समधी करण सिंह दलाल को पलवल सीट से हराया है.

यादव समाज को प्रतिनिधित्व देने के लिए नांगल चौधरी क्षेत्र के विधायक अभय यादव को कैबिनेट मंत्री का पद दिया जा सका है. वो दूसरी बार चुनाव जीते हैं. इससे दक्षिण हरियाणा भी सध जाएगा. यादव आईएएस रहे हैं. बीजेपी कोटे में दलित समाज से बनवारी लाल या विशम्बर सिंह में कोई एक कैबिनेट मंत्री बन सकता है. महिला कोटे में बड़खल की विधायक सीमा त्रिखा, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) बनाई जा सकती हैं. वो पिछली सरकार में मुख्य संसदीय सचिव रही हैं. बीजेपी से सिर्फ दो महिलाएं जीतकर आई हैं जिनमें सीमा त्रिखा सीनियर हैं. जाट समाज से महिपाल ढांडा को राज्यमंत्री बनाया जा सकता है. वो पानीपत ग्रामीण से दूसरी बार जीते हैं. बीजेपी ने 20 जाटों को टिकट दिया था जिनमें से सिर्फ चार जीतकर आए हैं.

Haryana politics, हरियाणा की राजनीति, बीजेपी, BJP, जेजेपी, JJP, घोषणापत्र, Manifesto, आर्थिक स्थिति, Economic condition, सीएम मनोहरलाल खट्टर, Manohar Lal Khattar, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, Dushyant Chautala, सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडिया इकोनॉमी, Centre for Monitoring India Economy, Haryana Poll Results, हरियाणा विधानसभा चुनाव, बेरोजगारी भत्ता, Unemployment allowance, senior citizen pension, बुजुर्ग पेंशन
बीजेपी अपने कोटे में जातीय और क्षेत्रीय संतुलन साधेगी!


निर्दलीय कोटा

इस बार हरियाणा में सात निर्दलीय जीतकर आए हैं. इसमें रानिया विधानसभा क्षेत्र से जीतकर आए रणजीत सिंह चौटाला को मंत्री बनाए जाने की चर्चा है. वो टिकट न पाने की वजह से कांग्रेस से बागी हुए थे. रणजीत सिंह ओम प्रकाश चौटाला के छोटे भाई हैं. राज्य मंत्री के लिए एक नाम चल रहा है पुंडरी से रणधीर सिंह गोलेन का. वो बीजेपी के पूर्व प्रत्याशी रह चुके हैं. इस बार पार्टी से बगावत कर के मैदान में उतरे थे. राज्य मंत्री के तौर पर नीलोखेड़ी (सुरक्षित सीट) से धर्मपाल का भी नाम चल रहा है. वो भी बीजेपी के बागी हैं. हरियाणा में मुख्यमंत्री के अलावा 13 मंत्री बनाए जा सकते हैं.

ये भी पढ़ें:

हरियाणा में BJP-JJP पर घोषणा पत्र को लागू करने का दबाव, बेरोजगारी भत्ता, बुजुर्ग पेंशन पर फंसेगा पेंच!

हरियाणा की जंग में कैसे उभरी सिर्फ 319 दिन पुरानी जन नायक जनता पार्टी?

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज