हिसार में मिला 15 फीट लंबा इंडियन रॉक अजगर, पेट में तीन जगह थे चोट के निशान

हिसार स्थित एयरपोर्ट कैंपस में बीते मंगलवार की रात करीब 15 फीट लंबा अजगर निकल आया. इसका वजन करीब 70 किलोग्राम है.

News18 Haryana
Updated: July 11, 2019, 12:07 PM IST
हिसार में मिला 15 फीट लंबा इंडियन रॉक अजगर, पेट में तीन जगह थे चोट के निशान
हिसार स्थित एयरपोर्ट कैंपस में करीब 15 फीट लंबा अजगर निकल आया.
News18 Haryana
Updated: July 11, 2019, 12:07 PM IST
हरियाणा के हिसार स्थित एयरपोर्ट कैंपस में बीते मंगलवार की रात करीब 15 फीट लंबा अजगर निकल आया. इसका वजन करीब 70 किलोग्राम है. इसकी खबर मिलते ही पूरे कैंपस में हड़कंप सी मच गई. रात में कई घंटों तक अजगर को ढूंढने के बाद भी उसका पता नहीं लग सका. अगले दिन सुबह ​ड्यूटी पर जा रहे सुरक्षा गार्डों ने पार्किंग में अजगर काे देखा. इसकी सूचना वाइल्ड लाइफ को दी गई. संस्था की ओर से आई टीम ने करीब पौने घंटे की मशक्कत के बाद अजगर काे काबू में कर लिया.

इस प्रजाति का अजगर पहाड़ी इलाके में मिलता है

Python-अजगर
वाइल्ड लाइफ इंस्पेक्टर रामेश्वर दास बताते हैं कि यह अजगर भारत के पहाड़ी इलाकों में मिलता है.


वाइल्ड लाइफ इंस्पेक्टर रामेश्वर दास बताते हैं कि यह अजगर भारत के पहाड़ी इलाकों में मिलता है. उन्होंने बताया कि इस इलाके में इस प्रजाति के अजगर मिलने का यह पहला मामला है. यह अजगर इंडियन रॉक पाइथन नस्ल का है. अजगर को अब रोहतक तिलियार स्थित मिनी चिड़ियाघर में छोड़ दिया गया है.

एयरपोर्ट से अजगर को पकड़ लिया गया

हिसार रेंज के मंडलीय वन्य प्राणी अधिकारी पवन ग्रोवर और रोहतक रेंज के मंडलीय वन्य प्राणी अधिकारी दीपक अलावादी के संयुक्त नेतृत्व में रेस्क्यू अभियान चलाया गया. पवन ग्रोवर को एयरपोर्ट परिसर में घायल अवस्था में इंडियन रॉक पायथन के मिलने की सूचना आई. इसके बाद उन्होंने दीपक अलावादी से संपर्क कर रोहतक चिड़ियाघर से रेस्क्यू टीम बुला ली. सुबह करीब 11:30 बजे एयरपोर्ट से अजगर को पकड़ लिया गया. उसके पेट में तीन जगहों पर चोट के निशान पाए गए हैं.

रेस्क्यू टीम से जुड़े सदस्यों की मानें ताे अजगर को जंगल का रास्ता नहीं मिल पाने के चलते वह वहीं पर डटा रहा. टीम के लोगों ने कैचर के सहयोग से उसे काबू कर लिया. 15 फीट लंबे इस अजगर को एक्सपर्ट की देखरेख में निगरानी को लेकर उन्हें रोहतक चिड़ियाघर के लिए रवाना कर दिया. यहां चिकित्सकों की देखरेख में रहेगा.
Loading...

दो अजगरों की संगति में इसे रखा गया

दीपक अलावादी ने बताया कि इंडियन रॉक पाइथन को मिनी चिड़ियाघर में पहले से रखे गए दो इंडियन रॉक पायथन के बाड़े में छोड़ा गया है. वह अभी चोट लगने से घबराया हुआ है और इस हालात में उसका इलाज मुश्किल हो गया. रिलेक्स होने के साथ ही उसका उपचार किया जाएगा. दीपक ने बताया कि स्वस्थ होने के बाद उसके जंगल में छोड़ दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें: पंजाबः धमाके के बाद फैक्ट्री में लगी भीषण आग, 1 की मौत

तीन अलग-अलग सड़क हादसों में एक की मौत, 8 की हालत गंभीर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हिसार से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 11, 2019, 12:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...