Home /News /haryana /

हिसार: डीएपी खाद की कालाबाजारी, दो दुकानदारों के गोदाम में मिले 526 कट्टे, केस दर्ज

हिसार: डीएपी खाद की कालाबाजारी, दो दुकानदारों के गोदाम में मिले 526 कट्टे, केस दर्ज

 हांसी पुलिस ने कालाबाजारी के मामले में दो एफआईआर दर्ज की है.

हांसी पुलिस ने कालाबाजारी के मामले में दो एफआईआर दर्ज की है.

Haryana Farmers News: खाद बीज की दुकानों पर चली इस छापेमारी के चलते शहर के दुकानदारों में हडकंप मचा रहा. छापेमारी के चलते दुकानदारों द्वारा खुद ही स्टॉक बेचना शुरु कर दिया गया. हांसी अनाज मंडी चौकी प्रभारी सुमेर सिंह ने कहा कि डीएपी खाद की कालाबाजरी करने वाले किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा. उसकेे खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी. हांसी पुलिस ने कालाबाजारी के मामले में दो एफआईआर दर्ज की है.

अधिक पढ़ें ...

हिसार. डीएपी खाद की कालाबाजारी के चलते मंगलवार को हांसी प्रशासन की ओर से बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया गया. कृषि विभाग और पुलिस की ओर से शहर में डीएपी खाद (DAP Fertilizer) के अवैध रूप से किए गए स्टॉक के लिए गोदामों व दुकानों पर छापेमारी की गई. इस दौरान ज्योति कृषि भंडार व अनाज मंडी की दुकान नंबर 12 मुकेश कुमार देवी दत्त के गोदाम में अवैध रूप से रखे गए 526 डीएपी के बैग बरामद किए गए. जिसके चलते देर सायं कृषि विभाग (Agriculture Department) की ओर पुलिस को कार्रवाई के लिए शिकायत दी गई है.

शिकायत के आधार पर पुलिस ने ज्योति कृषि भंडार व अनाज मंडी की दुकान मुकेश कुमार देवी दत्त  के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है  डीएपी के लिए एक ओर तो किसान दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं, वहीं खाद विक्रेता मोटे कमीशन के चक्कर में उन्हें दोहरी मार देने का काम कर रहे है. मंगलवार सुबह दस बजे से लेकर शाम 7 बजे तक किसान व अधिकारी दुकानों पर घुमकर स्टॉक जांच करते रहे.

कुल छह जगहों पर छापेमारी चली, जिसमें से तीन जगहों पर गड़बड़ी मिली. सभी जगह पर डीएपी खाद का स्टॉक पाया गया. जहां स्टॉक मिला विभाग ने उसे किसानों में बंटवा दिया. किसान नेताओं का कहना है कि उनको गुप्त सुचना मिली थी कि खाद बीज सेंटर चलाने वाले दुकानदारों ने डीएपी खाद के कट्टों का स्टॉक रखा हुआ है. इसे ब्लैक में बेच रहे हैं.

1200 रुपये कीमत के कट्टे को 1300 से 1400 रुपये बेचा जा रहा है. या फिर किसानों को इसके साथ पेस्टीसाईड खरीदने के लिए कहा जाता है. जिस पर किसानों ने पुलिस प्रशासन को सुचना दी. किसान नेता विकास सीसर, कुलदीप खरड, दशरथ मलिक, सुदेश गोयत व किसानों की अगुवाई में पुलिस प्रशासन की टीमें किसानों के साथ गई. इस दौरान कृषि विभाग के एसडीओ जागीर सिंह व पुलिस बल साथ रहा.

Tags: Farmer, Farmer story, Haryana Farmers

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर