• Home
  • »
  • News
  • »
  • haryana
  • »
  • HISAR 90 YEAR OLD WOMAN BEATEN UP AND EXPELLED FROM HOME IN HISAR WOMEN COMMISSION REPORTS SUMMONED FROM SP HRRM

हिसार: 90 साल की बुजुर्ग महिला को पीटकर घर से निकाला, महिला आयोग ने SP से तलब की रिपोर्ट

हांसी में लॉकडाउन के बीच भाटला गांव में एक इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है.

Hisar News: 90 वर्षीय बुजुर्ग महिला को बहू व पोते से पीटकर घर से निकाल दिया. रोती हुई बुजुर्ग महिला घंटों तक गली में पड़ी रही तो ग्रामीणों ने उसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल कर दिया

  • Share this:
हिसार. हांसी के भाटला गांव में 90 साल की बुजुर्ग महिला को पुत्रवधू व पोते द्वारा पीटकर घर से निकाल देने के मामले में राज्य महिला आयोग (Women's Commission) ने कड़ा संज्ञान लिया है. आयोग द्वारा जिला पुलिस (Police) हांसी से मामले में रिपोर्ट तलब की है. हालांकि पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए उसी दिन आरोपित महिला व उसके बेटे के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया थ.  इस मामले में बुजुर्ग महिला के बड़े बेटे का कहना है कि उन्हें न्याय चाहिए है. उसकी भाभी ने उनके घर के हिस्से पर भी कब्जा कर रखा है और उनके पास रहने के लिए कोई ठिकाना नहीं है.

बता दें कि भाटला गांव में पिछले हफ्ते में एक वीडियो वायरल हुई थी जिसमें 90 वर्ष की बुजुर्ग महिला रजनी गली में बैठी बिलख रही थी. बुजुर्ग ने आरोप लगाया था कि उसकी पुत्रवधू व पोते ने उसने पीटकर घर से निकाल दिया है. इस अमानवीय घटना की सोशल मीडिया पर जमकर भ्रत्सना हुई थी. एसपी ने मामला सामने आते ही तुरंत एक्शन लेने के निर्देश दिए थे.

वहीं, मामले में अब राज्य महिला आयोग द्वारा संज्ञान लिया गया है और एसपी हांसी से विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है. वर्तमान में बुजुर्ग महिला अपने बड़े बेटे के पास गांव में ही रहती है. बुजुर्ग के बेटे राजबीर ने मामले में न्याय की गुहार लगाई है और सख्त कार्रवाई की मांग की है.

बता दें कि 90 वर्षीय रजनी देवी के दो बेटे हैं जिनमें से एक का देहांत हो चुका है और एक दिल्ली में रहता है जो रेलवे से रिटायर्ड है. बुजुर्ग महिला गांव में ही अपनी बड़ी बहू के पास रहती है. आरोप है कि बुजुर्ग महिला के साथ कई बार मारपीट भी की जाती थी . मंगलवार को उस समय अत्याचार की हद हो गई जब लॉकडाउन के बीच ही बुजुर्ग महिला को बुरी तरह पीटकर उसकी चारपाई व कपड़ों से भरे बैग के साथ घर से निकाल दिया गया.